भारत के राष्ट्रीय प्रतीकों की सूची

List of All National Symbols of India in Hindi - Bharat Ke Rashtriya Pratiko Ki Suchi

All List of National Symbols of India in Hindi

जानें भारत के राष्ट्रीय प्रतीकों के बारे में

यह लेख (List Of National Symbols of India In Hindi) भारत के राष्ट्रीय प्रतीकों (Bharat Ke Rashtriya Pratik) पर आधारित है। इस लेख में मैंने भारत के 17 राष्ट्रीय प्रतीकों के बारे में चर्चा की है। प्रत्येक प्रतीक पर विस्तार से चर्चा की गई है।

विस्तृत चर्चा के कारण, आपको दिलचस्प तथ्य पढ़ने को मिलेंगे, जो आपके दिल और दिमाग दोनों को खुश करेंगे। हमें उम्मीद है कि इस लेख को पढ़कर आप काफी संतुष्ट महसूस करेंगे।

भारत के राष्ट्रीय प्रतीक देश की छवि को दर्शाते हैं और बहुत सावधानी और संयम के साथ चुने जाते हैं। इस लेख में, मैंने भारत के राष्ट्रीय प्रतीकों की सूची और उनकी विस्तृत जानकारी (पूर्ण संस्करण में) का वर्णन किया है।

यह लेख आपके मन में उठने वाले हर प्रश्न का सटीक उत्तर देगा। इसलिए मुझे उम्मीद है कि मेरे द्वारा लिखा गया यह लेख आपको रोमांचित करेगा।

If you want to read this article in English, click on the link below the name of the "Top 20+ National Symbols Of India".

भारत के राष्ट्रपिता - महात्मा मोहनदास करमचंद गांधी

  • राष्ट्रपति महात्मा गाँधी का जन्म 2 अक्टूबर ,1869 को गुजरान के पोरबंदर में हुआ था. 1893 में भारतियों और अफ़्रीकी अश्वेत व्यक्तियों पर हो रहे अत्याचार और रंगभेद की निति के विरुद्ध उन्होंने आंदोलन किया।

  • महात्मा गाँधी ने अंग्रेजो के खिलाफ सत्य और अहिंसा की निति अपनाते हुए, भारत को स्वतंत्र कराने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। 1917-1947 तक के राष्ट्रीय आंदोलन के काल को गाँधी युग के नाम से जाना जाता है। सर्वप्रथम सुभाषचंद्र बोस ने महात्मा गाँधी को राष्ट्रपिता नाम से सम्बोधित किया।

  • रविंद्रनाथ टैगोर ने सर्वप्रथम मोहनदास करमचंद्र गाँधी को महात्मा कह कर पुकारा था।

  • पंडित जवाहरलाल नेहरू सर्वप्रथम महात्मा गाँधी को बापू कह कर पुकारा था।

  • विंस्टन चर्चित ने सर्वप्रथम महात्मा गाँधी को अर्धनग्न फ़क़ीर कहा था।

भारत का राष्ट्रीय झंडा - तिरंगा

  • भारतीय ध्वज को तिरंगा के नाम से जाना जाता है। भारतीय संविधान सभा ने 22 जुलाई, 1947 को इसे राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के रूप में अपनाया।

  • इसे 14 अगस्त 1947 को संविधान सभा के अर्द्ध रात्रिकालीन अधिवेशन में राष्ट्र को समर्पित किया गया. इस तिरंगे झंडे में 3 आड़ी पट्टियां है। इस ध्वज की लम्बाई एवं चौड़ाई का अनुपात 3:2 है। इस ध्वज के बीच में नीले रंग की 24 तीलियों वाला अशोक चक्र है जो देश को धर्म और ईमानदारी से उन्नति की ओर ले जाने की प्रेरणा देता है।

    1. सबसे ऊपर गहरा केसरिया रंग : सहस एवं बलिदान का प्रतीत है.

    2. मध्य में सफ़ेद रंग : सत्य एवं शांति का प्रतीत है.

    3. सबसे निचे हरा रंग : जिसे विकास, उर्वरता, विश्वास एवं शैर्य का प्रतीत माना जाता है।

  • सर्वप्रथम 7 अगस्त 1906 को कोलकाता के पारसी बागान चौराहे पर हरा, पीला और लाल रंगो की आड़ी पट्टियों वाले तिरंगे ध्वज के रूप में फहराया गया।

  • आजादी के बाद देश के बाहर विदेशी भूमि पर प्रथम बार ऑस्ट्रेलिया में आधिकारिक रूप से तिरंगे झंडे को फहराया गया.

  • 29 मार्च, 1953 को प्रथम बार तिरंगा माउंट एवेरेस्ट पर तेनसिंह नार्गे व सर एडमंड हिलेरी द्वारा फहराया गया.

  • 1971 में अमेरिका के अपोलो-१५ नमक अंतरिक्ष यान द्वारा भारत का राष्ट्रीय ध्वज सर्प्रथम अंतरिक्ष में फहराया गया.

  • 21 अप्रैल, 1996 को उत्तरी ध्रुव पर स्क्वाड्रन लीडर संजय थापर ने तिरंगे को फहराया।

  • 5 अप्रैल 1984 को भारत के प्रथम अंतरिक्ष यात्री स्क्वाड्रन लीडर राकेश शर्मा तिरंगा को स्पेस सूट पर बैज के रूप में लगाकर अंतरिक्ष में पहुंचे।

  • 15 नवंबर 2008 को भारत ने चन्द्रमा पर भी अपना राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस प्रकार चन्द्रमा पर ध्वज फहराने वाला भारत विश्व का चौथा देश बन गया है. इससे पूर्व अमेरिका, रूस तथा यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी ने भी अपने ध्वज चन्द्रमा पर फहरा चुके हैं.

  • 26 जनवरी 2002 को ध्वज संहिता भारत का स्थान भारतीय ध्वज संहिता, २००२ ने ले लिया है. इसकी व्यवस्था के अनुसार अब भारतीय नागरिक अपनी निजी संस्थाओं, शिक्षण संस्थाओं में सम्मानित तरीके से वर्ष के किसी भी दिन ध्वजारोहण कर सकते हैं.

भारत का राष्ट्रीय गान - जन गण मन

  • राष्ट्रीय गान जन गन मन ki रचना रवीन्द्रनाथ टैगोर ने मूलरूप से बांग्ला भाषा में की थी. इसी राष्ट्रगान को भारतीय संविधान सभा द्वारा 26 जनवरी 1950 को अंगीकृत किया गया.

  • इस गान को सर्वप्रथम 24 दिसंबर 1911 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था. यह गान सर्वप्रथम 1912 में तत्वबोधिनी नमक पत्रिका में विधाता नामक शीर्षक से प्रकाशित हुआ था.

  • राष्ट्रगान में 13 पंक्तियाँ है, जिसको गाने में 52 सेकंड का समय लगता है.

  • रविंद्र नाथ टैगोर ने राष्ट्रीय गान का अंग्रेजी अनुवाद 1919 में मॉर्निंग सांग ऑफ़ इंडिया शीर्षक से किया था.

  • इसका हिंदी व उर्दू अनुवाद आजाद हिन्द फौज के कॅप्टन आबिद अली ने किया था। कैप्टन राम सिंह ठाकुर ने राष्ट्रीय गान को संगीतमय ध्रुन प्रदान किया था।

  • गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर ने ही बांग्लादेश के राष्ट्रीय गान आमार सोनार बांग्ला की रचना की थी.

भारत के राष्ट्रीय गीत - वंदे मातरम

  • बंकिमचंद्र चटर्जी द्वारा 1874 में रचित 'बन्दे मातरम' नमक राष्ट्रीय गीत को संविधान सभा द्वारा 24 जनवरी, 1950 को अपनाया गया। बन्दे मातरम गीत बंगाली भाषा में था.

  • बंकिमचंद्र चटर्जी ने इस गीत की रचना अपने उपन्यास आनंद मठ में 1882 में की थी, जिसे जन गण मन के सामान दर्जा प्राप्त है.

  • आधुनिक समय में भारत का यह राष्ट्रीय गीत बन्दे मातरम संस्कृत भाषा में गया जाता है. यह राष्ट्रीय गीत संस्कृत भाषा में पहली बार 1896 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया था.

  • बन्दे मातरम जो की भारत का राष्ट्रीय गीत है इसे गाने में कुल 1 मिनट 5 सेकंड का समय लगता है। इस राष्ट्रीय गीत का धुन पन्ना लाल द्वारा तैयार किया गया है.

  • बन्दे मातरम का अंग्रेजी अनुवाद सर्वप्रथम अरविन्द घोष ने किया था, जबकि इसका उर्दू अनुवाद आरिफ मोहम्मद खान ने किया था.

  • सर्वप्रथम 1927 में फांसी के फंदे पर झूलते हुए बन्दे मातरम गाना गाने वाले अशफाक उल्लाह खान थें।

  • 1949 में मास्टर कृषराव ने राष्ट्रगीत बंद पर बजाने की धुन बनाई थी, जिनके निर्देशन में मास्टर गणपत सिंह ने प्रथम बार इसे बजाय था.

भारत का राष्ट्रीय चिन्ह - अशोक का स्तम्भ

  • भारत सरकार 26 जनवरी, 1950 को सारनाथ में स्थित अशोक स्तम्भ को राष्ट्रीय चिन्ह के रूप में स्वीकार किया। अशोक स्तम्भ के निचे की ओर अंकित पट्टी के निचे एक चक्र तथा दायीं ओर एक सांड और बायीं ओर एक घोड़ा अंकित दिखाई दे रहा है. अशोक स्तम्भ में निचे की ओर देवनागरी लिपि में सत्यमेव जयते अंकित है. जिसे मुण्डकोपनिषद से लिया गया है.

  • राष्ट्रीय चिन्ह में दर्शाये गए पशु -

    1. घोड़ा (Horse) : अदम्य शक्ति, परिश्रम व गतिशीलता का प्रतिक है.Indomitable is a symbol of strength, hard work and mobility.

    2. सिंह (Lion) : साहस, शौर्य और निर्भिकता का प्रतिक है.It is a symbol of courage, bravery and fearlessness.

    3. सांड (Bull) : भारत की कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था का प्रतिक है.It is a symbol of India's agricultural economy.

भारत का राष्ट्रीय जानवर - बाघ

  • भारत का राष्ट्रीय पशु बाघ (पैंथर टाइग्रिस लिन्नायस) है, जो पिले रंग और धारीदार लोमचर्म वाला एक पशु है. इसकी 04 प्रजातिओं में से भारत में पायी जाने वाली प्रजाति को रॉयल बंगाल टाइगर के नाम से चुना गया है. इसको अपनी शालीनता, दृढ़ता, फुर्ती और अपार शक्ति के कारन राष्ट्रीय पशु कहलाने का गौरव प्राप्त हुआ है.

  • 1972 में बाघ को राष्ट्रीय पशु घोषित किया गया.

  • देश में बाघों की घटती संख्या को देखते हुए 1 अप्रैल 1949 में भारत सरकार द्वारा बाघ परियोजना प्रारम्भ किया गया था.

  • मैसूर के शासक टीपू सुल्तान को शेर ए-मैसूर भी कहा जाता था, जिसके शासनकाल में बाघ उनके प्रतिक चिन्ह के रूप में अपनाया गया था.

  • आपको पता होना चाहिए कि 1949 तक भारत का राष्ट्रीय पशु सिंह (Lion) था. भारत में केवल गुजरात rajya में सिंह paya jata है, इसलिए सिंह se राष्ट्रीय पशु का दर्जा वापस ले लिया गया.

  • बाघ बांग्लादेश का भी राष्ट्रीय पशु घोषित है। बांग्लादेश देश के नोटों पर बाघ का chitra अंकित किया गया है.

भारत का राष्ट्रीय पक्षी - मोर

  • भारत सरकार ने 1973 में मोर (पावो क्रिस्टेसस) को राष्ट्रीय पक्षी घोषित किआ गया. हंस के आकार के इस रंग बिरंगे पक्षी की गर्दन लम्बी, आँख के नीचे सफ़ेद निशान और सिर पर पंख के आकार की कलंगी होती है.

  • मादा मोर का रंग भूरा होता है. मादा मोर की अपेक्षा नर मोर अत्यधिक सुन्दर होता है. नर मोर अपने पंखो को फैलाकर नृत्य से बड़ा ही आकर्षक दृश्य पैदा करता है.

  • भारतीय वन्य प्रणाली (सुरक्षा) अधिनियम, 1972 के अन्तर्गत इसे पूर्ण संरक्षण प्राप्त है.

  • सिकंदर महान मोर की सुंदरता से प्रभावित होकर भारत विजय की निशानी के रूप में इसे अपने साथ ले गया था.

  • भारत से पूर्व म्यांमार (बर्मा) भी मोर को राष्ट्रीय पक्षी घोषित कर चुका है.

  • 1973 में मोर को राष्ट्रीय पक्षी को मान्यता के बाद इसे मारना क़ानूनी अपराध घोषित किया गया.

  • भारतीय पुराण के अनुसार मोर भगवान् कार्तिकेय का वाहन है.

भारत का राष्ट्रीय फूल - कमल

  • भारत का राष्ट्रीय पुष्प कमल (नेलम्बो न्यूसिपेरा गार्टन) है. इसका प्राचीन भारतीय कला व पुराणों में महत्वपूर्ण स्थान है. प्राचीनकाल से ही इसे भारतीय संस्कृति का मांगलिक प्रतिक माना जाता है.

  • इसका विवरण विष्णु पुराण तथा पद्म पुराण में मिलता है. ब्रह्मा, सरस्वती, लक्ष्मी, इन देवी-देवताओं की स्थिति कमल में है.

  • कमल भारत को मिलकर चार देशों राष्ट्रीय पुष्प घोषित है - भारत, वियतनाम, मकाउ, मिस्त्र।

  • भारत में कमल तीन राज्यों को भी राजकीय फूल है - हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक।

  • अशोक की लात में अधोमुखी कमल का प्रयोग किया गया है.

भारत का राष्ट्रीय वृक्ष - बरगद का पेड़

  • भारत का राष्ट्रीय वृक्ष बरगद (फाइकस बघालेंसिस) है. यह एक बहुवर्षीय विशाल घना एवं फैला हुआ वृक्ष होता है. यह हिन्दुओं का पवित्र वृक्ष भी है. इसकी शाखाएं दूर-दूर तक कई एकड़ क्षेत्र में फैली हुई होती है.

  • जनवरी से मार्च तक का समय बरगद का पुष्काल है. बरगद जितनी गहरी जड़े किसी और वृक्ष की नहीं होती है. इससे दूध जैसा रस निकलता है, जिसे लेटेक्स कहते हैं. यह रात्रि में ऑक्सीजन छोड़ता है.

भारत का राष्ट्रीय फल - आम

  • भारत का राष्ट्रीय फल आम (मोनिगिफेरा इंडिका) है. भारत में आम पहाड़ी क्षेत्रों छोड़कर लगभग सभी स्थलों पर पैदा होता है. भारत में आम की अनेक किस्मे पायी जाती है. आम में विटामिन A, B and C प्रचुर मात्रा में पायी जाती है.

  • भारत में आम को फलों का राजा माना जाता है.

  • वेदों में आम को विलासिता का प्रतिक माना गया है.

  • आम को पकिस्तान व फिलीपींस में भी राष्ट्रीय फल माना जाता है. आम का पेड़ बांग्लादेश का राष्ट्रीय वृक्ष है.

  • चार हजार वर्ष पहले भारत में ही सर्वप्रथम आम के पेड़ की बागवानी शुरू हुई थी.

  • भारत में सर्वप्रथम उत्पादित कलमी आम मालगोवा है।

भारत का राष्ट्रीय खेल - हॉकी

  • भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है. इसमें 11-11 खिलाड़ियों की 2 टीमें खेल में भाग लेती है. हॉकी में प्रयुक्त सफेद गेंद का वजन 155 ग्राम होता है तथा हॉकी स्टिक 91 सेंटीमीटर लंबी होती है. हॉकी के जादूगर के नाम से मशहूर मेजर ध्यानचंद के जन्म दिवस 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है.

  • मेजर ध्यानचंद का जन्म इलाहाबाद में 29 अगस्त 1905 को हुआ था. भारत ने ओलंपिक हॉकी में 8 बार स्वर्ण पदक जीता है. 1928 के एकस्टम ओलंपिक में भारत ने नीदरलैंड को 3-0 से पराजित कर प्रथम स्वर्ण पदक जीता था. इसके बाद 1956 तक लगातार छह स्वर्ण पदक jeetaa gayaa. तदुपरांत 1964 और 1980 में दो स्वर्ण पदक जीते थे.

  • हॉकी इंडिया ने 23 जुलाई, 2009 को नया लोगो अनावृत किया है जो राष्ट्रीय ध्वज के अशोक चक्र से प्रेरित है. इसमें 24 हॉकी stick हैं jo एक पहिए के रूप में सजी हुई है.

भारत की राष्ट्रीय नदी - गंगा नदी

  • भारत सरकार 4 नवंबर 2008 में गंगा को राष्ट्रीय नदी घोषित किया है. यह नदी गंगोत्री हिमनद के गोमुख नामक स्थान से निकलती है. Iski kul lambai लगभग 2525 किलोमीटर है. इसकी सहायक नदियां यमुना, सोन, टोंस, पुनपुन, गोमती, घाघरा, गंडक, कोसी और महानंदा है.

  • गंगा नदी पांच राज्यों से होते हुए बांग्लादेश में प्रवेश करती हुई antim me बंगाल की खाड़ी में jaa girti है. गंगा नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए 2009 में राष्ट्रीय गंगा बेसिन प्राधिकरण का गठन किया गया.

भारत का राष्ट्रीय जलीय जीव - डॉल्फिन

  • 5 अक्टूबर 2009 को भारत सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने डॉल्फिन वैज्ञानिक नाम प्लाटा निस्ता गंगेटिका को राष्ट्रीय जलीय जीव घोषित किया. केंद्र सरकार ने गंगा में डॉल्फिन की संख्या बढ़ाने के लिए प्रोजेक्ट डॉल्फिन को भी प्रोजेक्ट टाइगर की तरह महत्वपूर्ण माना है.

  • विश्व के ताजे पानी के केवल 4 क्षेत्रों में डॉल्फिन पाई जाती है. भारत में गंगा एवं चंबल नदी के अलावा पाकिस्तान में सिंधु नदी में फूला, चीन में यांग्त्जे नदी में बाजी और ब्राजील के अमेजन नदी में वोटों नाम से डॉल्फिन की प्रजाति पाई जाती है. इसे गंगा का टाइगर नाम से भी जाना जाता है.

  • गंगा में पाई जाने वाली डॉल्फिन दृष्टिहीन होती है इनकी आंखों में लेंस नहीं होते हैं. maadaa nar डॉल्फिन की लंबाई से अधिक होती है. डॉल्फिन का उल्लेख महाभारत में भी मिलता है.

भारत का राष्ट्रीय मुद्रा प्रतीक - भारतीय रुपया चिन्ह

  • भारतीय रुपए की अलग पहचान चिन्ह निर्धारित करने के लिए 15 जुलाई 2010 को नया प्रतीक देवनागरी लिपि के आर को मिलाकर बनाया गया है. भारतीय मुद्रा विश्व की पांचवी ऐसी मुद्रा है जिसका अपना अलग पहचान चिन्ह है इसके पूर्व अमेरिकी डॉलर, ब्रिटिश पाउंड, जापानी येन एवं यूरोपीय euro का अपना अलग पहचान chinh है.

  • मुंबई आईआईटी के पोस्ट ग्रेजुएट उदय कुमार ने इस भारतीय राष्ट्रीय मुद्रा को डिजाइन किया है. राष्ट्रीय मुद्रा का यह प्रतीक देवनागरी ke akshar ra और रोमन के अक्षर aar को मिलाजुला कर बनाया है. देवनागरी के akshar ra ke बीच में एक रेखा काटती है जो तिरंगे का प्रतिनिधित्व करती है इसका आशय समानता भी है

भारत का राष्ट्रीय युद्ध स्मारक - इंडिया गेट

  • इंडिया गेट भारत का राष्ट्रीय स्मारक है. यह देश के सबसे बड़े युद्ध स्मारकों में शामिल है. इंडिया गेट देश की राजधानी दिल्ली में स्थित है. इसे उन 90000 सैनिकों की स्मृति में 1913 में बनाकर तैयार किया गया जो प्रथम विश्व युद्ध और अफगान युद्ध में ब्रिटिश सेना की तरफ से लड़े थे.

  • 10 फरवरी 1912 को ड्यूक ऑफ कनॉट ने अखिल भारतीय युद्ध स्मारक यानी इंडिया गेट की नींव डाली थी.

  • इंडिया गेट का डिजाइन एडविन लुटियंस ने तैयार किया था.

  • पहले इंडिया गेट को ऑल इंडिया वॉर मेमोरियल कहा जाता था.

  • 26 जनवरी 1972 को इंडिया गेट मेहराब के नीचे दिसंबर 1971 के भारत-पाक युद्ध में मारे गए भारतीय जवानों के प्रति राष्ट्र की श्रद्धांजलि के रूप में एक और स्मारक अमर जवान ज्योति जोड़ दिया गया यह ज्योति शहीदों की स्मृति में सदैव प्रज्वलित रहती है.

भारत का राष्ट्रीय धरोहर पशु - हाथी

  • 21 अक्टूबर 2010 को भारत सरकार ने एशियाई हाथी को राष्ट्रीय विरासत पशु घोषित किया. सरकार ने wanya क्षेत्रों में रहने वाले हाथियों के संरक्षण के लिए फरवरी 1992 में प्रोजेक्ट एलीफेंट की शुरुआत की थी.

  • हाथी के sakshya सर्वप्रथम सिंधु घाटी सभ्यता के muhro पर मिलते हैं. वैदिक देवता इंद्र रावत नामक हाथी को अपने वाहन के रूप में उपयोग करते थे.

  • अमेरिका के रिपब्लिकन पार्टी व भारत के बहुजन समाज पार्टी का चुनाव चिन्ह haathi है.

  • महाभारत में उल्लेख अश्वत्थामा हाथी की मृत्यु युद्ध की निर्णायक घटना थी.

  • भारत में हाथी 4 राज्यों की राजकीय पशु घोषित है. केरल, कर्नाटक, झारखंड, ओडिशा.

भारत की आधिकारिक भाषा - हिंदी

  • हिंदी भारत की आधिकारिक भाषा है न कि राष्ट्रभाषा। भारत की राष्ट्रीय भाषा हिंदी नहीं है। भारत की कोई भी भाषा राष्ट्रीय नहीं है।

  • संविधान के अनुच्छेद 343 (1) के अनुसार देवनागरी लिपि में लिखित हिंदी भारत की राजभाषा है. संविधान में यह भी स्पष्ट किया गया है कि इसके साथ शासकीय कार्यों के लिए अंग्रेजी को भी प्रयोग किया जा सकता है.

  • भारत का प्रथम राजभाषा आयोग 1955 में बीजी खेर की अध्यक्षता में गठित किया गया था. भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में पहले 14 भाषाएं शामिल की गई थी परंतु अब 22 भाषाएं शामिल हैं. हिंदी, मलयालम, बंगाली, असमिया, तमिली, तेलुगु, मराठी, उड़िया, पंजाबी, संस्कृत, सिंधी, गुजराती, कश्मीरी, उर्दू, कन्नड़, कोकनी, मणिपुरी, नेपाली, बोडो, डोगरी, संधाली, मैथिली.

हिंदी भाषा का विकास क्रम -

  • संस्कृत से उत्पन्न भारतीय आर्य भाषाओं के अपभ्रंश से 1050 ईसवी से 1150 ईस्वी के बीच हिंदी का जन्म माना गया है

  • 1165 से 1192 ईस्वी के बीच दरबारी कवि चंदबरदाई ने पृथ्वीराज रासो के रूप में हिंदी साहित्य की प्रथम रचना किए थे.

  • प्रथम हिंदी उपन्यास परीक्षा गुरु है जिसे लाला श्रीनिवास दास ने लिखा था.

  • गोपाल चंद्र का नहुष हिंदी का प्रथम मौलिक नाटक माना जाता है.

  • 1796 में कलकत्ता से प्रकाशित जॉन गिलक्रिस्ट की ग्रामर ऑफ हिंदुस्तानी लैंग्वेज टाइप आधारित देवनागरी में प्रकाशित प्रथम किताब थी

  • हिंदी का प्रथम अखबार उदंत मार्तंड 30 मई 1826 को पंडित जुगल किशोर शुक्ल के संपादन में निकला था.

  • हिंदी भाषी प्रदेशों में सर्वप्रथम बिहार में 1835 में हिंदी आंदोलन शुरू हुआ.

  • हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने का विचार सर्वप्रथम गुजराती कवि श्री नर्मद जी ने रखा था.

  • भारत में प्रथम बार हिंदी में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कोलकाता विश्वविद्यालय के कुलपति सर आशुतोष मुखर्जी ने फोर्ट विलियम कॉलेज द्वारा 1919 ईस्वी में शुरू किया था.

  • वर्ष 1930 में प्रथम हिंदी टाइपराइटर अस्तित्व में आया.

  • 1931 में आर्देशिर ईरानी ने भारत की प्रथम बोलती फिल्म आलम आरा हिंदी में बनाई.

  • लोकसभा में 15 मई 1952 को प्रथम बार हिंदी में संबोधन सीकर के तत्कालीन सांसद A. N. शर्मा ने किया था.

  • 14 सितंबर 1949 को हिंदी को भारत की राजभाषा के रूप में स्वीकार किया गया.

  • देश में 14 सितंबर 1953 को प्रथम बार हिंदी दिवस मनाया गया.

  • प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन नागपुर में 10 से 12 जनवरी 1975 को भारत में हुआ जिसमें 30 देशों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया था.

  • डॉक्टर फादर कामिल बुल्के जो कि बेल्जियम के निवासी थे उनके द्वारा निर्मित अंग्रेजी हिंदी शब्दकोश हिंदी भाषा का सबसे प्रमाणिक शब्दकोश माना जाता है.

  • संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रथम बार हिंदी में भाषण 1977 में तत्कालीन विदेश मंत्री अटल बिहारी बाजपेई ने दी थी.

  • इलाहाबाद हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति रहे सुबह प्रेमशंकर गुप्त हिंदी में निर्णय देने वाले प्रथम न्यायाधीश हैं

  • हिंदी की प्रथम इंटरनेट पत्रिका भारत दर्शन न्यूजीलैंड से प्रकाशित हुई.

  • इंजीनियर आलोक कुमार ने 21 अप्रैल 2003 को हिंदी का प्रथम ब्लॉग नौ दो ग्यारह शुरू किया था.

भारतीय संविधान में भाषा संबंधी प्रावधान -

अनुच्छेद 343 : संघ की राजधानी हिंदी और लिपि देवनागरी होगी. अंको का रूप भारतीय अंकों का अंतर्राष्ट्रीय रूप होगा.

अनुच्छेद 344 : राजभाषा के संबंध में आयोग (5 वर्ष के उपरांत राष्ट्रपति के द्वारा) और संसद की समिति (10 वर्ष के उपरांत).

अनुच्छेद 345 : राज्य की राजभाषा और राज भाषाएं.

अनुच्छेद 346 : एक राज्य और दूसरे राज्य के बीच पत्रादि की राजभाषा.

अनुच्छेद 347 : किसी राज्य की जनसंख्या के किसी अनुभाग द्वारा बोली जाने वाली भाषा के संबंध में विशेष उपबंध.

अनुच्छेद 348 : सर्वोच्च न्यायालय और उच्च न्यायालय में और संसद व राज्य विधानमंडल में विधायकों, अधिनियम के लिए प्रयोग की जाने वाली भाषा.

अनुच्छेद 349 : भाषा से संबंधित विधियां अधिनियमित करने के लिए विशेष प्रक्रिया.

अनुच्छेद 350(a) : भाषा अल्पसंख्यक वर्गों के लिए प्राथमिक स्तर पर मातृभाषा में शिक्षा की सुविधाएं.

अनुच्छेद 350(b) : भाषाएं अल्पसंख्यक वर्गों के लिए विशेष अधिकारी की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा.

अनुच्छेद 351 : हिंदी के विकास के लिए निर्देश संघ का यह कर्तव्य होगा कि वह हिंदी भाषा का प्रसार बढ़ाएं.