बुढापा पेंशन कैसे बनवाये

 

हरियाणा में बुढ़ापा पेंशन के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

नमस्कार दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको बड़ी आसानी से बताएंगे कि हरियाणा में बुढ़ापा पेंशन के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ? आप अपने किसी बुजुर्ग की बुढ़ापा पेंशन किस तरह से बनवा सकते हैं. बुढ़ापा पेंशन बनवाने के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट लगेंगे और बुढ़ापा पेंशन बनवाने की प्रोसेस क्या है इन सभी के बारे में आपको इस पोस्ट में बताएंगे.

दोस्तों भारत में हरियाणा राज्य देश का पहला ऐसा राज्य है जहां पर सबसे पहले वृद्धावस्था पेंशन लागू की गई थी. और आज भी पूरे भारत में हरियाणा में सबसे ज्यादा पेंशन दी जाती हैवृद्धावस्था की परिभाषा या वृद्धावस्था का अर्थ होता है कि जिस व्यक्ति या औरत  की उम्र 60 वर्ष से अधिक हो गयी हो और अब वह अपने जीवन की ओसत आयु के नजदीक पहुंच चूका हो.

चौधरी देवी लाल जी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री बनते ही सभी 60 वर्ष बुजुर्गों को 100 रूपये महीने पेंशन योजना शुरू की। इस योजना के द्वारा वर्ष 1987 में प्रदेश के लगभग आठ लाख चालीस हजार बुजुर्गों को पेंशन का लाभदेकर सामाजिक सम्मान दिया गया। इस क्राांतिकारी कदम की देखा-देखी अन्य राज्यों ने भी बुजुर्गों को पेंशन देनी शुरू की।
आज बुजुर्गों को बुढ़ापा पेंशन के रूप में 1800 प्रति महीना मिल रहे हैं. और हर साल  200 की बढ़ोतरी बुढ़ापा पेंशन में की जाती है.

दोस्तों पहले के समय में बुढ़ापा पेंशन बनवाना बहुत ही आसान होता था लेकिन आज के समय कुछ रूल रेगुलेशन लागू कर दिए गए हैं. बुढ़ापा पेंशन वैसे तो 60 साल की उम्र होने पर बन जाती हैं लेकिन इसके लिए व्यक्ति के पास अपनी उम्र का प्रूफ होना बहुत जरूरी है.

हरियाणा में बुढ़ापा पेंशन के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

बुढ़ापा पेंशन बनवाने के लिए जरूरी योग्यता :

  1. बुढ़ापा पेंशन बनवाने के लिए सबसे जरूरी योग्यता यह है कि व्यक्ति 60 साल का होना जरूरी है. इसके लिए व्यक्ति के पास अपना आयु प्रमाण पत्र यानी कि एज प्रूफ होना चाहिए.
    इसके लिए आप जन्म प्रमाण पत्र, स्कूल प्रमाण पत्र, फोटोयुक्त ड्राईविंग लाइसेंस, फोटोयुक्त पासपोर्ट, फोटोयुक्त पैन कार्ड नंबर, फोटोयुक्त वोटर कार्ड में से कोई भी एक प्रमाण पत्र दिखा सकते है।
  2. अगर किसी व्यक्ति के पास अपना कोई भी एज प्रूफ नहीं है तो वह अपनी सबसे बड़ी संतान लड़का या लड़की में से किसी का भी एग्रो दिखा सकता है. इसके लिए उसके संतान की आयु 38 वर्ष होनी चाहिए. अगर कोई महिला वृद्धावस्था पेंशन के लिए आवेदन कर रही है तो उसके लिए उसकी संतान की आयु 40 वर्ष होनी चाहिए.
  3. अगर किसी व्यक्ति की कोई संतान नहीं है और ना ही उसके पास उसका कोई एज प्रूफ है तो उसकी आयु की जांच सिविल हॉस्पिटल में बैठे डॉक्टरों से करवानी होगी. सरकारी अस्पताल के डॉक्टर व्यक्ति की जांच करके उसे आयु प्रमाण पत्र प्रदान कर देंगे.
  4. वृद्धावस्था पेंशन बनवाने के लिए व्यक्ति के पास अब अपना डोमिसाइल होना भी जरूरी है.
    इनके अलावा व्यक्ति के पास कुछ बेसिक डॉक्यूमेंट्री होने चाहिए जैसे कि आधार कार्ड, बैंक अकाउंट की कॉपी, राशन कार्ड की कॉपी इत्यादि.
  5. जिस व्यक्ति की वार्षिक आमदनी 200000 रुपए से ज्यादा है पति और पत्नी दोनों की मिलाकर तो वह व्यक्ति बुढ़ापा पेंशन के लिए अप्लाई नहीं कर सकता.

वृद्धा पेंशन बनवाने की प्रोसेस l वृद्धावस्था पेंशन के लिए ऑनलाइन आवेदन

  1.  सबसे पहले आप ओल्ड एज पेंशन हरयाणा एप्लीकेशन फॉर्म अच्छे से भर ले. Old Age Pension Form आप नीचे दिए हुए लिंक से डाउनलोड कर सकते हैं. या फिर आप ये एप्लीकेशन फॉर्म अपने CSC Center से भी ले सकते है.
  2. वृद्धावस्था पेंशन के लिए आवेदन करने के लिए भरा हुआ एप्लीकेशन फॉर्म अपने गांव के सरपंच या नगर पार्षद से वेरीफाई करवा ले.
  3. सरपंच या नगर पार्षद से एप्लीकेशन फॉर्म वेरीफाई करवाने के बाद इसे अपने गांव के पटवारी से भी वेरिफाई करवा लें.
  4. अब व्यक्ति अपने पास के CSC यानी कि कॉमन सर्विस सेंटर में चला जाए.
  5. कॉमन सर्विस सेंटर में बैठा हुआ ऑपरेटर आपके सभी डॉक्यूमेंट चेक करेगा.
  6. कॉमन सर्विस सेंटर में बैठा व्यक्ति आपके सभी डॉक्यूमेंट की जानकारी ऑनलाइन फिलअप करेगा और आपकी एक CIDR ID जनरेट करेगा.
  7. CSC ऑपरेटर आपके सभी डॉक्यूमेंट स्कैन करेगा और उनकी एक PDF फाइल बनाकर ऑनलाइन अपलोड कर देगा.
  8. वृद्धावस्था पेंशन ऑनलाइन भरा गया फॉर्म तथा स्कैन किए हुए सभी डॉक्यूमेंट आपके फोरम से संबंधित अधिकारी यानी कि तहसीलदार या नायब तहसीलदार के पास ऑनलाइन भेज दिए जाएंगे.
  9. अब आपको आपके भेजे गए फॉर्म की रसीद CSC ऑपरेटर दे देगा.
  10. नायब तहसीलदार के पास आपका बुढ़ापा पेंशन का फॉर्म  तथा सभी डॉक्यूमेंट पहुंच जाएंगे और समाज कल्याण विभाग हरियाणा में आपके  सभी  डाक्यूमेंट्स   को अच्छे से देखा जायेगा.
  11. आपके सभी डॉक्यूमेंट देखे जाने के बाद अगर इन में कोई कमी पाई जाती है तो CSC सेंटर ऑपरेटर के पास मैसेज चला जाएगा.
  12. अगर आपके डॉक्यूमेंट सही पाए जाते हैं तो तहसीलदार आपके लिए एक ऑनलाइन सर्टिफिकेट जारी करेगा जिसमें उसके इलेक्ट्रॉनिक हस्ताक्षर होंगे.
  13. अब साइन किया हुआ सर्टिफिकेट दोबारा से CSC ऑपरेटर के पास चला जाएगा और आपके मोबाइल पर भी इसका मैसेज जाएगा.
  14. अब आप CSC सेंटर जाकर अपना सर्टिफिकेट या बुढ़ापा पेंशन का लैटर ले सकते हैं.
  15. अब आप इस वृद्धावस्था पेंशन  के लैटर को लेकर अपने बैंक में जाये और उन्हें ये लैटर जमा करवा दे.
  16. ऊपर बताई हुई पूरी प्रक्रिया होने में करीब 5 से 7 दिन लग सकते हैं. अगर आपको 7 दिनों के अंदर कोई भी जानकारी ना मिले तो आप CSC सेंटर में जाकर इसके बारे में पता कर ले.

ज्यादा जानकारी के लिए 9812886700 या CSC New Yog Nagar नजदीक  Yog School  में सम्पर्क करें  |