समाचार

नन्हे-मुन्नों ने मनाया स्थापना दिवस ]
    आज के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे समाजसेवी  श्री महेंद्र गर्ग
सी.ए.और कार्यक्रम की अध्यक्षता की माननीया सरोज गौरिहार ने |
  सभी अतिथियों का चन्दन तिलक से नन्ही बच्चियों ने स्वागत किया|अतिथियों
ने माँ सरस्वती के चित्र पर पुष्पार्पण  किये|तुम्ही हो माता पिता तुम्ही
हो प्रार्थना से कार्यक्रम का आगाज हुआ| मुस्कान ने हिंदी में और रेनी ने
अंग्रेजी में अपना परिचय दिया | मानसी ने अपने विद्यालय के विषय में बताया
और संस्कृत में सुभाषित बोले|हे प्रभो तुम शक्तिशाली हो बनाते सृष्टि को
वैदिक भजन की गेय  प्रस्तुति मनीषा और साथियों ने दी|इस कार्यक्रम में
सभी रंग बिखरे|सीता ने विवेकानंद की जीवनी बताई तो विष्णु और साथियों ने
सर्वेश्वर दयाल सक्सेना की कविता बंजारे का गीत प्रस्तुत किया |नन्ही
बालिका शाहीन ने 'फिर चूहा बन जाओ 'कहानी सुनाई तो हुस्ना ने अपने तुतलाती
आवाज में एक 'कौआ प्यासा था 'की प्रस्तुति दी|आशीश ,अमन  और राजा ने
कलाबाजिया खाईं तो बच्चियों ने 'दिल है छोटा सा छोटी सी आशा 'की भाव नृत्य
प्रस्तुति दी| नारी शक्ति गीत 'कोमल है कमजोर नहीं' के स्वर भी मुखरित हुए|
   बच्चों के द्वारा प्रस्तुत दो नाटक 'राम -परशुराम संवाद और आज की शिक्षा
 बहुत सराहे गए|लक्ष्मण  के चरित्र ने खूब वाहवाही लूटी|| कार्यक्रम का
समापन कृष्ण की माखन चोरी लीला 'मैया मेरी मैं नहीं माखन खायो' से हुआ |
    विद्यार्थियों,अध्यापको और छात्रों ने अपने अनुभव बांटे|श्री महेंद्र
गर्ग ने कहा कि इन बच्चों को लेकर ऐसी प्रस्तुति यह सोचने पर जरूर मजबूर
करती है कि बच्चों का सही मार्गदर्शन उनके  जीवन की दिशा बदल देता है
|अध्यक्षीय उदबोधन में  आदरणीय गौरिहार जी ने बच्चों की  अभिनय कला की बहुत
प्रशंसा की|उन्होंने कहा इतना बड़ा काम इतने गुप चुप तरीके से  हो रहा है, इसे
प्रकाश में लाने की  आवश्यकता है|सभी आगंतुकोंका आभार नन्ही बच्ची खुशबू और
प्रयास अध्यक्ष प्रोफ़ेसर शर्मा ने किया |
कार्यक्रम का संचालन बीना शर्मा ने किया | इस अवसर पर प्रोफ़ेसर  अरुण
चतुर्वेदी ,नगर निगम के शाषी अभियंता श्री राठी जी,श्री चरनलाल जी,डाक्टर
अलका चौधरी, डाक्टर अनुपम ,श्रीमती अरुना ,श्री भूपेश  जी,श्री मखीजा जी
उपस्थित  थे|प्रयास के अध्यापक वर्ग श्री  सुधीर,श्रीमती  विश्नुपदा,कुमारी
रजनी,मिनी और सोनिया के सहयोग से कार्यक्रम सफल रहा


प्रयास में मना गणतंत्र दिवस 2012
तमाम सरकारी प्रयासों को ताक पर रख अपनी निजी कोशिशों से समाज के
उपेक्षित और मुख्य धारा से अलग-थलग पड़े ७५ छोटुओं और छुटकियों को
साक्षर,शिक्षित बनाती और उनमें व्यावसयिक हुनर का विकास करती लायर्स
कालोनी की प्रयास संस्था में गणतंत्र का पर्व बड़े हर्षोल्लास के साथ
मनाया गया |
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे प्रतियोगिता दर्पण
के संपादक श्री संजय सुमन जी और सभा की अध्यक्षता
प्रयास सदस्य श्री ओम प्रकाश मखीजा जी ने की | बच्चों ने रंगारग
कार्यक्रम प्रस्तुत किये | देशभक्ति के गीतों और नृत्यों का ऐसा समा बंधा
कि सभा भाव विभोर हो उठी |कार्यक्रम का सफल संचालन अध्यापिका विश्नुपदा
ने किया |प्रयास अध्यक्ष प्रोफ़ेसर शिव नारायण शर्मा ने ६५ बच्चों को
स्वेटर प्रदान किए |मुख्य अतिथि ने कार्यक्रम को बहुत सराहा और उन्हें
आगे बढ़ाने की प्रेरणा दी|मखीजा जी ने बच्चो को संकल्प दिलाया कि वे यहाँ
मिली शिक्षा को जीवन भर याद रखेंगे|प्रयास सदस्य श्रीमती साधना वैद ने
बच्चो के लिए कलापत्र दिए|प्रयास सचिव बीना शर्मा के आभार प्रदर्शन से
कार्यक्रम की समाप्ति हुई|इस अवसर पर प्रयास के अध्यापक बंधु श्री सुधीर
जी प्रयास जन संपर्क अधिकारी ,श्रीमती विश्नुपदा ,तरुना,रजनी,अलका ,मिनी
,सोनिया ,श्रीमती वीणा मल्होत्रा उपस्थित थे |
रोटरी क्लब आव आगरा ग्रेटर के सचिव श्री मनोज बजाज और अध्यक्ष
प्रोफ़ेसर अश्वनी श्रीवास्तव के साथ पन्द्रह सदस्यीय दल ने प्रयास का
संदर्शन किया|क्लब के पास्ड डिस्ट्रिक्ट गवर्नर डा डी.एन. रायजादा ने
प्रयास सहायतार्थ ५००० रुपये की धन राशि प्रदान की |रोटेरियन डा. माया
श्रीवास्तव और श्रीमती प्रतिमा भार्गव ने प्रयास की संरक्षक सदस्यता
ग्रहण की और ५००० -५००० के चेक राशि प्रयास समिति को दी |ध्यातव्य हो कि
आप दोनों पूर्व से ही प्रयास की आजीवन सदस्या है |
प्रयास संस्था की बगिया में इन बच्चों के लिए निशुल्क
शिक्षण और नैतिक प्रक्षिक्षण की व्यवस्था २००८ से
जारी है | जून २००९ में यह संस्था पंजीकृत हो चुकी है | इस बगिया की माली
प्रोफ़ेसर बीना शर्मा के अनुसार ये प्रयोग धर्मी संस्था प्राथमिक शिक्षा
के क्षेत्र में सार्थक हस्तक्षेप की योजना के तहत कामकर रही है | शिक्षण
के साथ –साथ व्यावसायिक शिक्षा के लिए अभियोजन वर्ग के तहत सिलाई,बुनाई
,मेंहदी,हस्त शिल्प,काष्ट कला की कक्षाएं चलाती है| इस वर्ष से घरेलु
विद्युत उपकरणों को ठीक करने की कक्षाएं आयोजित करने का विचार है |
किसी भी संस्था का प्रथम कार्य अपने टारगेट समूह के लिए पाठ्य क्रम और
उसके अनुकूल पाठ्यपुस्तकों का निर्माण होता है| संस्था इस दिशा में अपनी
योजनाओं को क्रियान्वित रूप दे चुकी है |इन कामकाजी बच्चों की द्रष्टि से
संस्था ने अपना पाठ्यक्रम तैयार किया है |यह पाठ्यक्रम शिक्षा विदों और
भाषाशास्त्रियो से अनुमोदित है |
गीत, कहानी ,कविता ,सामान्य ज्ञान की पुस्तकें तैयार हो चुकी है और
विज्ञान ,सामाजिक ज्ञान ,हिन्दी ,अंग्रेजी और गणित की पुस्तकों का
निर्माण कार्य जारी है |यहाँ शिक्षण की अधुनातन विधियों- कंप्यूटर
साधित शिक्षण का प्रयोग किया जाता है |

प्रस्तुति बीना शर्मा

प्रयास सचिव

२०१०-२०११ वार्षिकोत्सव सम्पन्न 

मां सरस्वती की वन्दना से कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ |बच्चों ने समवेत स्वरों में इतनी शक्ति हमें देना प्रार्थना गाई |प्रयास अध्यक्ष प्रोफ़ेसर शर्मा ने मुख्य अतिथि मेजर राकेश लूथरा ,विशिष्ट अतिथि प्रोफ़ेसर एस.पी.अग्निहोत्री ,सभा के अध्यक्ष श्री निरंजन प्रसाद सारस्वत और सभी उपस्थितों का स्वागत और अभिनन्दन  किया |

खेल समूह के बच्चे रेल में बैठ कर नानी  के घर गए तो परिचय वर्ग के बच्चों ने रंग -बिरंगे गुब्बारे खरीदे और खूब मस्ती की| बोधन २ के बच्चो ने उठो जवान देश के वसुंधरा पुकारती गीत गाकर देश भक्ति का जज्वा दिखाया तो अभिव्यक्ति वर्ग ने तुलसीदास की रामचरितमानस से श्लोक ,सोरठा,छंद,चौपाई और दोहे का पाठ किया और आर्यन ने हनुमान चालीसा सुनाया| अन्त में बोधन-२ के बच्चों ने हम होंगे कामयाब गीत गाकर सबकी हौसला आफजाई की |इस कार्यक्रम का संचालन छात्रा पूजा ने किया जिसे सभी ने बहुत सराहा |

आगे के कार्यक्रम में सचिव बीना ने साल भर की गतिविधियों को रेखांकित किया |प्रतिवेदन देखे

वार्षिक प्रतिवेदन -२०१०-११ १६ मई २०१० सत्रांत के बाद  दिनांक २० मई से नियमित कक्षाए प्रारम्भ हो गई| २० मई से आज तक की गतिविधियों को  मैं संक्षेप में रेखांकित कर रही हूँ|

१.        प्रयास के सहयोगी हाथ –

 नगर आयुक्त द्वारा प्रयास में मल्टी मीडिया शिक्षण के लिए  ५०,००० रुपये धनराशि दी गई जिससे एक एल.सी.डी स्पीकर ,माइक और कीबोर्ड खरीदा गया| |

रोटरी क्लब आव आगरा हेरिटेज ने ६१ बच्चों के लिए यूनीफोर्म ,एक सिलाई मशीन और स्टेशनरी प्रदान की |क्लब ने ५००० रुपये और डी.वी.शर्मा ने ११०० रुपये प्रदान किए|क्लब के सौजन्य से सितम्बर माह में कला प्रतियोगिता आयोजित की गई  और विजयी प्रतिभागियों को  पुरस्कृत किया गया |

रोटरी तो प्रयास का सहयोगी विगत चार वर्षों से रहा ही है इस वर्ष लायंस क्लब का सानिध्य भी प्रयास को मिला | लायन  डा.शशी गुप्ता के नेतृत्व में  बच्चों के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाया गया जिसमें डा. उमाकांत उपाध्याय ,जनरल  सर्जन और डा. संजय सक्सेना ,बाल रोग विशेषज्ञ ने बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया|    

  श्री मखीजा जी  ने बच्चों के लिए फ़ुटबाल ,साधना जी ने ग्लोब,  अनुपम ,अरुणा और सोनल ने स्टेशनरी  ,एस के सिंह ने ४० स्लेटे, श्रीमती मिथलेश ,बिजनौर ने एक फर्श उपहार स्वरूप दिया | श्रीमती मधु,सोनल,हरीशंकर प्रजापति,प्रोफ़ेसर रामलाल वर्मा,प्रोफ़ेसर माया जी   ने बच्चों को उपहार स्वरूप वित्तीय सहयोग दिया |

२.प्रयास परिवार के नए सदस्य ––आजीवन सदस्य  के रूप में श्री ओम प्रकाश मखीजा, शैक्षिक सदस्य के रूप में श्री अनुरंजन चतुर्वेदी और  अलका, कार्यालय सहायक के रूप में  मीनागौड़ , वार्षिक सदस्य के रूप  में हरी शंकर प्रजापति और श्रीमती मिथलेश  प्रयास परिवार के सदस्य बन गए हैं|

३.पुस्तकालय में इजाफा  –प्रथम संस्था से बच्चों के लिए उपयोगी १२ पुस्तकें खरीदी गई |  श्री अविनाश वाचस्पति से  हंसती  दुनिया पत्रिका की १८ प्रतियां ,श्री अलका मिश्रा और सर्वत जमाल से  विज्ञान और प्रोद्योगिकी परिषद ,लखनऊ की ४१ उपयोगी पुस्तकें ,डाक्टर विजय कुमार मल्होत्रा जी से  प्रोफ़ेसर जगन्नाथन द्वारा लिखित लघु छात्र कोष  ,कोशकार अरविन्द जी से   शब्दकोष और थिसारस ,लायंस क्लब से ७५ पुस्तकेंऔर  डा. शशी गुप्ता से  संस्कृति मंथन पुस्तक प्राप्त हुई | इस समय बच्चों के पुस्तकालय में लगभग २२५  पुस्तके हैं|

४. प्रयास में आगंतुक अतिथि- फिल्म फेस्टीवल निदेशालय,दिल्ली  से श्री अविनाश वाचस्पति ,केनरा बेंक ,अलीगढ़ के सीनियर मेनेजर श्री पी.पी.शर्मा ,डाक्टर शकुंतला रेड्डी, डा.अनीता गांगुली ,रोटेरियन डी.वी शर्मा  और उनका  पन्द्रह सदस्यीय दल ,श्री अनुराग गुप्ता -चीफ आफीसर मर्चेंट नेवी ,श्रीमती नेहा गुप्ता ,प्रोफेसर अरूण चतुर्वेदी ,श्रीमती अनुभूति ,प्रोफ़ेसर सुरेन्द्र गंभीर और विजया गंभीर,अमेरिका  , डा. विजय कुमार मल्होत्रा ,दिल्ली ,श्री सर्वत जमाल ,श्रीमती अलका मिश्रा,लखनऊ , प्रोफ़ेसर वशिनी शर्मा ,श्रीमती रजनी लूथरा ,श्री ओ.पी.सरीन.,पास्ड लायंस गवर्नर डा.शशी गुप्ता,. जन सन्देश आगरा के चीफ ब्यूरो श्री महाराज सिह परिहार ,प्रोफ़ेसर  यू वी विश्नोई और श्रीमती विश्न्नोई  प्रयास के विभिन्न कार्यक्रमों मे उपस्थित रहे |प्रयास आप सभी का आभार व्यक्त करता है|

५.निर्णायक और परीक्षक –प्रतियोगिता में निर्णायक के रूप में प्रोफ़ेसर अग्निहोत्री ,श्री एस.के.बशिष्ठ ,डा.रामलाल वर्मा ,डा. जानकी ,श्रीमती साधना वैद ,श्री राजेश वैद ,डा.शशी गुप्ता रहे |वार्षिक परीक्षा की उत्तर पुस्तकाओं का मूल्यांकन डा.जानकी,डा. अनुपम,श्रीमती मधूलिका और प्रोफ़ेसर एस.एन  शर्मा ने किया |

६.शैक्षिक और अन्य  क्रियाकलाप-

यह वर्ष दो दृष्टियों से बहुत ही महत्त्व पूर्ण रहा -१. प्रयास पाठ्यक्रम   २.प्रयास गीत और कहानी संग्रह की  निर्मिति |

   गत वर्षों के अनुभवों और छात्रों की आवश्यकताओं के अनुकूल प्रयास में विविध विषयों का पाठ्यक्रम प्रोफ़ेसर बीना शर्मा द्वारा  तैयार किया गया|शिक्षाविदों और भाषा वैज्ञानिकों के पास इसे अनुमोदन और सुझावों  के लिए भेजा गया| सभी सुझावों को सम्मिलित कर इसे अंतिम रूप दिया गया और १५ फरवरी को युवा हिन्दी संस्थान,अमेरिका के प्रोफ़ेसर सुरेन्द्र गंभीर ,श्रीमती विजया गंभीर और केन्द्रीय हिन्दी संस्थान की अवकाश प्राप्त प्रोफेसर वशिनी शर्मा द्वारा पाठ्यक्रम का विमोचन किया गया|

  प्रयास बच्चों की शिक्षा में  गीत,कविता ,कहानी और नाटक  को बहुत अधिक महत्व देता है जिससे बच्चों में सुनने ,बोलने और लिखने की क्षमता का विकास हो सके| इस द्रष्टि से यह आवश्यकता बहुत लंबे समय से अनुभव की जा रही थी कि बच्चों के लिए गीत,कविताओं और कहानियों का संग्रह हो जिसे आधार पुस्तक के रूप में प्रयोग किया जा सके | हमें इस बात की प्रसन्नता है कि प्रयास गीत संग्रह और प्रयास कहानी संग्रह बीना शर्मा द्वारा तैयार कर लिए गए हैं |कुछ ही देर में उन संग्रहों का विमोचन होगा|

  मल्टीमीडिया शिक्षण के लिए कहानी ,गीत , अंग्रेजी  और गणित की पीपीटी डा. बीना, श्री सुधीर और श्री  अनुरंजन द्वारा तैयार की गई है| अन्य विषयो के लिए जून महीने में पीपीटी तैयार की जायेंगी|

  योग प्रयास के पाठ्यक्रम का अभिन्न  अंग है|जनवरी माह से योग की कक्षाएं प्रारम्भ की गई | योग की दैनिक कक्षाए अध्यापिका सीमा ,बीना और   रजनी द्वारा ली गई|रविवार के  दिन  बच्चों ने श्री मखीजा के नेतृत्व में  योग का अभ्यास किया|   व्यावसायिक पाठ्क्रम में सिलाई ,बुनाई,रंगोली और  क्राफ्ट की कक्षाएं रजनी और सीमा ने ली |  श्री सुधीर जी के नेतृत्व में चार बच्चे कम्पूटर कार्य भी  सीख रहे हैं|

   प्रयास में  पहली बार प्रतियोगिता सप्ताह मनाया गया जिसमें लेखन और पठन(हिन्दी और अंग्रेजी ) ,शब्द खेल,वादविवाद ,आशु भाषण , नृत्य,गीत ,कविता,और खेल प्रतियोगिता कराई गई |आज विजेताओं को पुरस्कार भी मिलेगा |

पोलीथीन हटाओ अभियान में  प्रयास के अध्यापकों की सहभागिता रही|वर्ष २०११ का शुभारंभ  प्रयास के शिक्षकों  ने महताब बाग  के  संदर्शन से किया और खूब आनंद लिया | इस वर्ष बच्चों ने प्रयास में जागृति और तारे जमीन पर पिक्चर देखी और बहुत आनंदित हुए |

७.बच्चों की सहभागिता –सांस्कृतिक कार्यक्रम और सैर-सपाटा

प्रयास में साल भर प्रवेश चलता रहा| दरअसल ये छात्र जिन परिवारों से आते हैं वहाँ सब कुछ अनिश्चित है, पता नहीं कब यहाँ से रोजी रोटी उठ जाए और उन्हें अपना बोरिया बिस्तर बांधना पड़े या कब उन्हें यहाँ काम मिल जाए औए उन्हें यहाँ रहना पड़े| जनवरी तक कुल ७७ छात्र पंजीकृत हुए | जिनमे से ६२ छात्र अन्त तक बने रहे लेकिन परिवार में शादी आदि कारणों से आठ  छात्र  चले गए और आज ५४ छात्र यहाँ उपस्थित हैं|

 स्वंत्रतता  दिवस ,गणतंत्र दिबस ,बालदिवस और प्रयास के स्थापना दिवस पर बच्चों ने आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जिसमें गीत,नृत्य,कविता,कहानी ,नाटक, अंग्रेजी और संस्कृत में परिचय और योग सभी कुछ था |दिसम्बर माह में  कोलोनी के पार्क में खेल का आनंद लिया तो शैक्षिक संदर्शन के लिए अभिव्यक्ति वर्ग के २८ और बोधन वर्ग के ८ छात्र अध्यापकों के साथ लूथरा इंजीनियरिंग इंडस्ट्रीज सिकंदरा ,जिसके कर्ता-धर्ता आज के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि हैं , गए जहां उन्होंने देखा कि पिस्टन रिंग कैसे बनाई जाती हैं|  उचित वाहन व्यवस्था के अभाव में खेल समूह ,परिचय,और बोधन १ के बच्चे इस बार घूमने  न जा सके| इस के लिए बच्चे हमसे नाराज है और हमें भी इस बात का दुःख है|

वर्ष भर छात्रों ने पढ़ा ,लिखा ,गाया,खेला,नाटक किया ,कभी रूठे मटके तो अगले ही क्षण अपनी मासूमियत के साथ फिर हाजिर हो गये |  आज सभी परीक्षा परिणाम की प्रतीक्षा में है|

  साल बीत गया ,मीठी -मीठी यादें छोड़ गया | हमने बच्चों को क्या सिखाया ये तो वे जाने पर हमें बच्चों ने बहुत कुछ  सिखाया है| इनका भविष्य उज्जवल हो और ये जहां भी जाए सदैव सुखी रहें यही कामना है| इस वर्ष हमारी दो अध्यापिकाए भी अपना गृहस्थ जीवन प्रारम्भ करने जा रही है,उनका जीवन  खुशहाल हो |

 इस सत्र के लिए हमें कुछ सहयोगी हाथों की तलाश रहेगी |

     आज प्रयास जैसा भी है ,मेरे अपने और कुशल सहयोगियों के कारण ही संभव हो पाया है ,सब सहयोगियों को  मेरा शुभाशीष |                                            प्रयास सचिव बीना

  विशिष्ट अतिथि प्रोफ़ेसर अग्निहोत्री ने बीना शर्मा द्वारा लिखित प्रयास कहानी संग्रह  और प्रयास गीत और कविता संग्रह का विमोचन किया | मुख्य अतिथि मेजर लूथरा ने बच्चों को परीक्षाफल और पुरस्कार वितरित किए |

इसके अतिरिक्त सर्वाधिक उपस्थिति के लिए असिला,अच्छे व्यवहार के लिए शाहीन और वर्ष भर प्रत्येक कार्य में पहल के लिए अजमेरी को पुरस्कृत किया गया| मेजर साहब ने इस विद्यालय को मोडल स्कूल की संज्ञा दीऔर कहा आज ऐसे अनेक प्रयासों की आवश्यकता है|

  

 

                 

 

 

दिनांक २ अप्रेल को लायंस क्लब आफ ताज ,आगरा से श्री ओम प्रकाश सरीन

 

,डा०उमाकान्त उपाध्याय -जनरलसर्जन .डा० संजय सक्सेना-बाल रोग विशेषज्ञ
,डा० शशी गुप्ता ,उद्योग पति श्री गुप्ता जी प्रयास संदर्शन के लिए आये|
डा० शशी ने बच्चों को क्लब के कार्यों के विषय में जानकारी दी ,बच्चों
ने अतिथियों को प्रार्थना सुनाई|
लायंस क्लब की ओर से बच्चों के लिए७० पुस्तकें ,अध्यापकों के लिए ओर
माता-पिता के लिए (१-१ सेट) उपयोगी पुस्तकें प्रयास पुस्तकालय के लिए
उपहार स्वरूप दी |चिकित्सक दल ने बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया
,उन्हें दवाई वितरित की और कार्यक्रम के अंत में भरपूर
जलपान(बिस्कुट,नमकीन और केला ) कराया |छात्रा रुना ने सभी को धन्यवाद
दिया |प्रयास परिवार लायंस क्लब के सेवा कार्यों के प्रति अपना आभार
प्रकट करता है |
प्रयास सचिव बीना शर्मा के सौजन्य से
प्रतियोगता सप्ताह -सत्र २०१० -२०११
२५ मार्च से ३१-०३-२०११ तक प्रयास में प्रथम बार प्रतियोगता सप्ताह
आयोजित किया गया |विभिन्न वर्गों में साहित्यिक ,सांस्कृतिक और खेल
प्रतियोगताएं आयोजित की गईं | दिनांक २५-मार्च को लेखन प्रतियोगता हुई
जिसमें अध्यक्ष थे प्रो०एस.एन०शर्मा और निर्णायक थी डा० जानकी |सुलेख
,अनुलेख,श्रुत लेख ,स्वंतंत्र रचना (निबंध अथवा कहानी)शब्द खेल हिन्दी और
अंग्रेजी की प्रतियोगता रखी गई|यह प्रतियोगता बोधन और अभिव्यक्ति वर्ग के
लिए थी|
दिनांक २६ मार्च पठन (हिन्दी और अंग्रेजी),कहानी और कविता के नाम रहा |
इस दिन डा. जानकी और श्रीमती साधना वैद निर्णायक थी और अध्यक्ष पद पर
आसीन थे प्रो.रामलाल वर्मा |
दिनांक २८ मार्च को पूर्वाह्न में गीत - नृत्य और अपराह्न में आशु भाषण
प्रतियोगता रखी गई |पूर्वाह्न में लायंस डा०. शशी गुप्ता और साधना वैद
और अपराह्न में डा० अग्निहोत्री और श्री एस.के.वशिष्ठ ने निर्णायक की
भूमिका निभाई और श्री महेश चंद गुप्ता ,भूतपूर्व बेंक मेनेजर ने
अध्यक्षता की |
दिनांक २९ और ३० मार्च को खेल प्रतियोगतारखी गई जिसमें प्रो०अश्वनी
श्रीवास्तव और श्री राजेश वैद निर्णायक रहे |श्री सुधीर ने कार्यक्रम का
संचालन किया और श्री धर्मेन्द्र ने सहयोग दिया | इन डोर में
केरम,लूडो,सांप सीडी ,रस्सी कूदऔर म्यूजिक चेयर की प्रतियोगता थी |३०
मार्च को दौड़ -५०मीटर,जोड़ी ,लंगडी ,नीबू चम्मच ,सुईं धागा ,कूद-लंबी
कूद,कबड्डी प्रतियोगता रखी गई|
आज बच्चे बहुत खश थे वह पहली बार इन
प्रतियोगताओं का आनंद ले रहे थे | प्रयास की ओर से बच्चों को फल वितरित
किए गए और श्री मोहित ने बिस्कुट खिलाए| बच्चों ने पूरे सप्ताह
व्यस्ततम क्षणों को जीया |दिनांक ३१ मार्च को अवकाश घोषित किया गया |
इन प्रतियोगताओ मे बच्चों के उत्साह का आलम तो यह था कि लगभग सभी बच्चों
ने प्रतियोगता में अपनी प्रतिभागिता दर्ज कराई| हम अध्यापक बच्चों की
बहुमुखी प्रतिभा से रूबरू हुए | जो बच्चे पढाई के दौरान बहुत चुपचाप रहते
थे वे भी अब मुखर थे मानो उनके सपनों को मंजिल मिल गई थी और वे भी अपने
नन्हे डैनों से खुले आकाश में
विचरण कर रहे थे | अब ये प्रतियोगता सप्ताह प्रतिवर्ष का आकर्षण बन चुके
है |और बच्चे इस फैसले से बेहद खुश और रोमांचित हैं |
विजेता प्रतिभागियों को प्रयास के वार्षिक कार्यक्रम हमने क्या सीखा में
पुरस्कार प्रदान किये जायेंगे|
प्रयास सचिव बीना शर्मा की डायरी से
*प्रयास में प्रथम बार प्रतियोगता सप्ताह
२५ मार्च से ३१ मार्च तक मनाया जाएगा जिसमें साहित्यिक-सांस्कृतिक और
खेल प्रतियोगता आयोजित की जायेंगी |
*दिनांक १७ मार्च को लायंस क्लब इंटरनेशनल आगरा की पास्ड गवर्नर डा.शशी
गुप्ता ने पर्यावरण विद श्री ओमप्रकाश सरीन के साथ प्रयास का संदर्शन
किया |बच्चों ने माल्यार्पण से मेडम का स्वागत किया और प्रार्थना
प्रस्तुत की |डा. शशी ने प्रयास के कार्यों की सराहना की और स्वयं की
लिखी कुछ पुस्तकें प्रयास के पुस्तकालय में रखने की इच्छा प्रकट की
|ज्ञातव्य हो कि डा. शशी एक लेखिका भी हैं|


फरवरी माह से प्रयास में प्रत्येक रविवार को प्रात:९बजे से १० बजे तक

श्री मखीजा जी के नेतृत्व में योग कक्षाएं संचालित की जा रही है| इसके
अतिरिक्त छात्र प्रतिदिन एक विषय के रूप में भी योग शिक्षा का अध्ययन कर
रहे हैं | ये कक्षाएं बोधन वर्ग में सीमा और अभिव्यक्ति वर्ग में बीना
अध्यापिका द्वारा ली जा रही हैं|
 दिनांक ६ मार्च ,दिन रविवार को प्रयास के शैक्षिक सदस्यों की एक बैठक
आयोजित की गई जिसमें मल्टीमीडिया शिक्षण के लिए सामग्री निर्माण पर
चर्चा हुई और सुधीर जी ने सभी अध्यापकों को मल्टीमीडिया से पाठ पढाने
के सन्दर्भ में जानकारी दी| सचिव ने बताया कि मार्च का अंतिम सप्ताह
प्रतियोगिता सप्ताह के रूप में मनाया जाएगा जिसमें छात्रों के लिए
साहित्यिक,सांस्क्रतिक और खेलप्रतियोगिताएं आयोजित की जायेंगी |
  ८.३.२०११ को श्रीमती मिथलेश ,निवासी बिजनौर ,उत्तरप्रदेश प्रयास की
वार्षिक सदस्य (सत्र २०१०--११)बनी और प्रयास संस्था के लिए एक फर्श भेंट
किया|
  दिनांक ७मार्च २०११ को डाक्टर विजय कुमार मल्होत्रा जी ने प्रयास के
विद्यार्थियों के लिए लघु छात्र कोष -(लेखक प्रो. वी.रा.जगन्नाथन)भेंट
किया |यह शब्द कोष छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है |
प्रयास परिवार दोनों ही महानुभावों का इस सहयोग के लिए आभार प्रकट करता है |

डा.विजय कुमार मल्होत्रा जी, पूर्व निदेशक राजभाषा विभाग, रेल मंत्रालय

भारत सरकार की अध्यक्षता में प्रयास ने मनाया अपना दूसरा स्थापना दिवस

इस अवसर पर मुख्य अतिथि थे जनसंदेश, आगरा के चीफ ब्यूरो डा. महाराज सिंह परिहार|
   
देखते-देखते सात साल बीत गए और आज प्रयास ने पंजीकृत होने के बाद
समाज में अपनी उपस्थिति फिर दर्ज करा दी| नन्ही-मुन्नी बच्चियों
सानाज, सोनिया और मुस्कान ने रोली-अक्षत और पुष्पगुच्छ से सभी सम्माननीय
आगंतुकों का स्वागत किया| पार्श्व में साधना वैद जी का स्वर गुंजायमान
होता रहा हे अतिथिगण स्वागत स्वागत | सभी बच्चों ने सामूहिक रूप से इतनी
शक्ति हमें देना दाता प्रार्थना प्रस्तुत की| बच्चोंकी फुलवारी से
सांस्कृतिक कार्यक्रम में सभी रंग दिखाई दिये, मैं तो सो रही थी और अम्मा
मेरे मूँछ ना क्यों जैसे बालगीत थे तो उगता सूरज जिधर सामने जैसी
ज्ञान वर्धक कविता भी थी | सर्वेश्वर दयाल सक्सेना और गोपाल कॉल की कविता
क्रमश: कौन कह रहा बंजारों सा ये जीवन बेकार है और हम भी तो कुछ देना सीखें का वाचन था तो कबीर और रहीम के दोहे भी अपना समाँ खूब बाँध रहे थे | शेर और चूहे की कहानी थी तो दो नाटक भी थे, कृष्ण-सुदामा की दोस्ती और
पोलीथीन हटाओ देश बचाओ, योगासन थे, देश भक्ति का जज्बा था तो नृत्य भी था
और नृत्य भी ऐसा कि सभी झूम उठे | जैसीम अंग्रेजी में यदि अपना परिचय दे
रहे थे तो रूना, असिला, रेनी ,बेबी और प्यारी वैदिक मन्त्रों का सुमधुर पाठ
भी कर रही थी |  कुल मिलाकर ये रंगारंग प्रोग्राम था और कार्यक्रम
संचालिका डा. अनुपम (कोषाध्यक्ष, प्रयास) ने अपनी कविताओं से इसे और रोचक
बना दिया|
 
प्रयास सचिव ने प्रयास एक नजर में २००४ से २०११ तक को रेखांकित किया |
मुख्य अतिथि ने कार्यक्रम को पूरी तरह साहित्यिक कार्यक्रम की संज्ञा
से अभिहित किया, स्वयं भी कविता पाठ किया और बच्चों के लिए हर संभव
सहायता का आश्वासन दिया | अध्यक्षीय वक्तव्य प्रस्तुत करते हुए मल्होत्रा
जी भाव विह्वल हो गये | उन्होंने कहा कि वाकई प्रतिभा पैसे की मोहताज नहीं
हुआ करती| प्रयास के मल्टीमीडिया शिक्षण की ओर बढ़ते कदमों और प्रयास
पाठ्यक्रम की उन्होंने सराहना की और इस सम्बन्ध में उन्होंने प्रयास के
लिए कम्प्यूटर लैब की आवश्यक्ता पर बल दिया| इन  सुझावों को अति शीघ्र अमल
में लाने की कोशिश की जायेगी

प्रयास की आजीवन सदस्या डा. जानकी जी ने सभी का आभार व्यक्त किया !
राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ |
इस अवसर पर प्रयास के शैक्षिक वर्ग के सभी सदस्य, प्रयास के अध्यक्ष
प्रो.एस.एन.शर्मा, उपसचिव माया जी, डा. जानकी, श्रीमती साधना वैद, प्रो.
अश्वनी जी, प्रो.अरूण जी, श्रीमती अनुभूति जी, श्री ओ.पी.सरीन, श्री
शैलेन्द्र कुमार, श्री मनीष दुबे, श्रीमती रजनी लूथरा और श्रीमती सोनल
उपस्थित रही |
प्रयास सचिव बीना शर्मा के सौजन्य से

 


प्रयास में मल्टी मीडिया शिक्षण का शुभारम्भ और पाठयक्रम का विमोचन


दिनांक १५ फरवरी २०११ का दिन प्रयास के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रहा
|
युवा हिन्दी संस्थान ,अमेरिका से पधारे प्रोफ़ेसर सुरेन्द्र गंभीर जी ने
प्रयास में मल्टीमीडिया शिक्षण के लिए एल.सी डी का रिबन काटकर उदघाटन
किया |ज्ञातव्य हो कि बालदिवस पर आगरा के नगर आयुक्त श्री विनय शंकर
पाण्डेय ने ५०००० रुपये धनराशि की सहायता की घोषणा की थी |सहायता रिलीज
होने पर एलसीडी और स्पीकर खरीदने की बात पर सर्वसम्मति से सहमति बनी
जिससे शिक्षण कार्य और प्रभावी हो सके |इससे पूर्व हम अध्यापक कम्पूटर
स्क्रीन का ही प्रयोग करते थे |
प्रयास के पाठ्यक्रम का निर्माण प्रोफ़ेसर बीना शर्मा ने अपने शैक्षिक
सहयोगियों के साथ किया और इसे सुझावों, सहमतिऔर अनुमोदन के लिए विभिन्न
विद्वानों (प्रोफेसर सुरेन्द्र गंभीर ,प्रोफ़ेसर वशिनी शर्मा ,प्रोफ़ेसर
अश्वनी श्रीवास्तव,डा.विजय कुमार मल्होत्रा ,श्री रमेश सचदेवा,प्रिंसीपल
,
एच.पी.एस. डबबाली ,हरियाणा ,श्री रवींद्र प्रभात ,ब्लोगर एवं परिकल्पना
के संयोजक ,डा. जानकी,डा.सीमा दीक्षित ,प्रोफ़ेसर मीरा सरीन ,श्री सर्वत
जमाल,,विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी की पुस्तकों के सह लेखक ,श्रीमती अलका
मिश्रा ,आयुर्वेदाचार्य और मेरा समस्त ब्लॉग की संचालिका ,प्रोफ़ेसर अरूण
चतुर्वेदी ,डाक्टर वरुण ,एम्स,दिल्ली ,प्रोफ़ेसर शिवनारायण शर्मा,अ.मु.वि.अलीगढ़ , डाक्टर अनुपम सारस्वत ,प्रोफ़ेसर माया श्रीवास्तव,प्रोफ़ेसर वी.यू.विश्नोई ) के पास भेजा| सभी विद्वानों ने अपनी सहमति दर्ज कराते हुए अपने सुझाव रखे|
इन सुझावों को पाठ्यक्रम में शामिल कर लिया गया है |आज इस पाठ्यक्रम का
विमोचन प्रोफ़ेसर सुरेन्द्र गंभीर,विजया गंभीर और प्रोफ्र्सर वशिनी शर्मा
के हाथों किया गया | इस अवसर पर लखनऊ से पधारे श्री सर्वत और अलका जी ने
प्रयास के शैक्षिक सदस्य श्री ओ.पी..मखीजा जी को प्रयास के बच्चों के लिए
विज्ञान और प्रोद्योगिकी परिषद,लखनऊ की ३८ पुस्तकें सौपीं|इससे पूर्व भी
ये दंपत्ति बच्चों के लिए पुसतके दे चुके है|प्रयास आपका सदैव आभारी
रहेगा |
कोशकार श्री अरविंद जी ने दिल्ली से बच्चों के लिए सुधीर जी के हाथो
शब्दकोष और थिसारस भिजवाया | प्रयास आप सबका हमेशा आभारी रहेगा |डा.
बच्चों ने समवेत स्वरों में सरस्वती वन्दना और ईश प्रार्थना की| छात्र
प्रतिनिधि अमर ने बच्चों की डायरी से प्रयास के विषय में बताया |रुना ने
एक बूँद कविता का वाचन किया और बच्चियों ने अपनी पीड़ा को माँ मेरा भी नाम
लिखा दो मैं भी पढने जाऊगी गाकर स्वर दिए |हमें भी कुछ कहना है कार्यक्रम
में राजन ,पूजा,प्रीती और आर्यन ने अपने अनुभव सुनाये|आज बच्चों के
माता-पिता भी इस कार्यक्रम के अंग बने| आर्यन की माताजी सोनल अपनी बात
कहते कहते भावुक हो उठी |
मुख्य अतिथि प्रोफ़ेसर गंभीर जी ने बच्चों को शुभाशीष दिया,उन्हें आगे
बढ़ने के लिए प्रेरित किया | बच्चों ने अमेरिका के विषय में अपनी
जिज्ञासाएं –(वहां के फूल,फल,राज्य,नदियों के विषय में) रखी और सर ने
उनका समाधान भी किया |मेडम विजया जी ने बच्चों को निरंतर आगे बढ़ते रहने
का सन्देश दिया | वह बच्चों से मिलाकर बहुत खुश हुई|प्रयास की उपाध्यक्ष
वशिनी जी ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया और प्रयास के बच्चों के
लिए भविष्य की योजनाओंके विषय में अपनी चिंता प्रकट की |
राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम समाप्त हुआ| कार्यक्रम का संचालन प्रयास
सचिव बीना ने किया |
प्रयास सचिव बीना शर्मा के सौजन्य से





प्रयास सचिव बीना शर्मा के सौजन्य से


प्रयास ने मनाया ६२वा गणतंत्र दिवस
२६ जनवरी २०११ को भारत का गणतंत्र ६१ वर्ष का पूरा हुआ |प्रयास के
विद्यारथी इस अवसर पर काफी उत्साहित थे |रंग बिरंगी झंडियां बनाकर
प्रयास को सजाया और सरस्वती प्रतिमा के लिए स्वयं पुष्पमाला बनाई |हर
बच्चे में होड़ लगी थी कि किसकी प्रस्तुति सबसे अच्छी हो |
सेंटजोंस कालेज आगरा के प्रोफ़ेसर बीर उदबोधन विश्नोई जी ने ध्वजारोहण
किया |करतल ध्वनि के मध्य भारतमाता की जयकार और वंदे मातरम से प्रयास
परिकर गूँज उठा |मुख्य अतिथि और प्रयास के सभी सदस्यों ने माँ सरस्वती की
प्रतिमा पर पुश्पार्चन किया |असिला और प्यारी ने संस्कृत में सरस्वती
वन्दना गई और इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों की झड़ी लग गई | हर वर्ग
से बच्चों ने प्रतिभागिता दर्ज कराई | खेल समूह ने शान तिरंगा मान तिरंगा
,परिचय वर्ग ने स्वागत गीत बोधन वर्ग ने झंडा गाँ और हम बच्चे
हिन्दुस्तान के ,अभिव्यक्ति वर्ग ने आओ बच्चों तुम्हें दिखाए खानकी
हिन्दुस्तान की देशगान प्रस्तुत किए |छात्राओं ने झांसी की रानी और
छात्रों ने ऐ मेरे वतन के लोगो की मोहक प्रस्तुतु दी | परिचय और बोधन
वर्ग ने बुद्धिमान बिल्ली कहाना का नाट्यमंचन किया तो अभिव्यक्ति वर्ग ने
ठग ठगे गए नाटक मंचित कर
ढोंगी बाबाओं से सावधान रहने का सन्देश दिया|
मुख्य अतिथि जी ने कार्यक्रम को बहुत सराहा और बच्चों को निरंतर आगे
बढ़ाने का सन्देश दिया|कार्यक्रम में उपस्थित प्रो. अश्वनी ,प्रो. अरूण
,प्रो. शर्मा,डा.माया ,डा. अनुपम ,श्रीमती विश्नोई ,श्रीमती अरुणा
,श्रीमती साधना वैद ,श्री ओ.पी.सरीन श्री शैलेन्द्र और श्री हरीशंकर ने
बच्चों को आगे बढ़ाने का सन्देश दिया | अरूण जी से सभी ने लाए है तूफ़ान से
कश्ती निकाले के गीत सुनने की फरमायश की और सुमधुर आवाज का आनद लिया |
सभा के अध्याक्स श्री अग्निहोत्री जी, पूर्व प्रोफ़ेसर ,इस.इन.मेडीकल
कोलेज ने बच्चों की देशभक्ति भावना की बहुत तारीफ़ की और रोजाना नियमित
पहने की सीख दी | अंत में प्रो. शर्मा ने सभी का आभार व्यक्त किया|
प्रयास सचिव बीना ने कार्यक्रम का संचालन किया|
इस अवसर पर प्रयास के अध्यापक बंधुओ ( श्री मखीजा जी ,श्री सुधीर
,श्री अनुरंजन ,कु सीमा,कु.रजनी और कु.अलका ) के सहयोग से कार्यक्रम
सफलीभूत हुआ|
प्रयास सचिव बीना की डायरी से







दिनांक १९ दिसम्बर २०१० को
 
प्रयास परिवार ने पोलीथिन मुक्त आगरा
जनजागृति मानव श्रंखला में भाग लिया | प्रयास का नारा था पोलीथिनका
परित्याग करें |इस अवसर पर प्रो.एस.एन.शर्मा ,श्री सुधीर ,श्री ओमप्रकाश
मखीजा,श्री हरीशंकर प्रजापति ,श्री शैलेन्द्र ,कुमार सीमा ,अलका,रजनी ,
अनुरंजन और बीना शर्मा ने भाग लिया |
२.दिनांक २०-१०-२०१० को श्री अनुराग गुप्ता ,चीफ ऑफीसर ,मर्चेंट नेवी
,आगरा का अपनी धर्म पत्नी नेहा गुप्ता के साथ प्रयास में आगमन हुआ |
श्री गुप्ताजी ने बहुत ही सरल भाषा में छात्रों को माल वाहक पानी के
जहाज के विषय में जानकारी दी| छात्रों के मन में ढेरों प्रश्न थे जिनका
समाधान किया गया| इस अवसर पर अध्यापक श्री सुधीर,सीमा ,श्री मखीजा जी और
बीना उपस्थित रहे| अंत में छात्रा रुना ने आगंतुकों को धन्यवाद दिया
|नेहा जी यहाँ आकर बहुत प्रसन्न हुई और उन्होंने अपनी ओर से हर संभव
सहायता का वचन दिया |
३. दिनांक २०-१२-२०१० को शैक्षिक संदर्शन के लिए अभिव्यक्ति वर्ग के १८
और बोधन वर्ग के ८ छात्र श्री सुधीर जी के नेतृत्व में पिस्टन रिंग बनाने
वाली फेक्टरी ,लूथरा इंजीनियरिंग इंडस्ट्रीज गए | अध्यापिका सीमा,अलका
,अनुरंजन और बीना भी इस दल के साथ थे |बच्चों ने मशीने देखी ,वहाँ का
कार्य देखा और अपनी जानकारी में वृद्धि की|
इस प्रकार के कार्यक्रम इन छात्रों की पढाई के लिए उत्प्रेरक का कार्य करते हैं





                                                                                         


प्रयास ने ऐसे मनाया बाल दिवस २०१०
आज चाचा नेहरू का जन्म दिन है और बच्चों के उत्साह का कोई ठिकाना नहीं |इस बार का आयोजन कई द्रष्टियों से विशेष रहा |१८ सितम्बर कों रोटरी क्लब आव आगरा हेरिटेज ने प्रयास के बच्चों के लिए चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया था | इस प्रतियोगिता में प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वाले प्रतिभागियों को क्लब की ओर से पुरस्कार दिएगए ये पुरस्कार मुख्य अतिथि नगर आयुक्त श्री विनय कुमार पाण्डेय द्वारा वितरित किए गए| क्लब के सौजन्य से ६१ छात्रों कों यूनीफोर्म भी दी गई||कार्यक्रम राधाकृष्ण मंदिर के भवन में था| प्रयास के अध्यक्ष प्रो, एस.एन.शर्मा ने प्रयास के उद्देश्य और लक्ष्य कों स्पष्ट किया | सुनीत जी और बीना शर्मा ने संयुक्त रूप में कार्यक्रम का संचालन किया |अश्वनी जी ने आगंतुक अथितियो का स्वागत किया |
 रोटरी क्लब और प्रयास संस्था के सभी सदस्य इस अवसर पर उपस्थित रहे | बच्चों के रंगारंग कार्यक्रम ने सभी का मन मोह लिया | खेल समूह वर्ग ने "माँ तुम कितनी अच्छी हो" गीत प्रस्तुत किया गया तो परिचय वर्ग की बच्चियों ने बीना शर्मा द्वारा रचित गीत "माँ मेरा भी नाम लिखा दो ,मै भी पढने जाऊंगी "गाकर अपने मन की पीड़ा कों अभिव्यक्ति दी | भारतेंदु हरिश्चंद्र द्वारा लिखित नाटक अंधेर नगरी चौपट राजा का मंचन अभिव्यक्ति वर्ग के बच्चों ने बीना शर्मा के निर्देशन में किया | महंत ,गोबर्धन दास और राजा के संवादों ने सबको खूब हँसाया| अंतिम प्रस्तुति के रूप में बच्चों ने सामूहिक गीत गाया "हम बच्चे हिन्दुस्तान के" |
  आज के बदलते दौर में और फ़िल्मी माहौल की रचावट के मध्य बच्चों के ये कार्यक्रम सब के मन कों बहुत भाये| आज प्रयास बहुत भाग्यशाली रहा| प्रयास के क्रिया-कलापों से नगर आयुक्त इतने प्रसन्न हुए कि उन्होंने समारोह में ही ५०,००० हजार धनराशि के अनुदान की घोषणा कर दी | किसी भी प्रकार की सहायता चाहे वह पाठय-पुस्तकों संबंधी हो अथवा स्थान संबंधी ,उन्होंने भरपूर सहायता का आश्वासन दिया और यह भी रेखांकित किया कि मेडम आपके प्रस्ताव आने के चौबीस घंटे के अंदर ये राशि आपकी संस्था के लिए रिलीज कर दी जायेगी|इस अवसर पर बी.एस.ए . श्रीमती इन्द्रा चौहान भी उपस्थित थी | उन्होंने भी हर संभव सहायता का आश्वासन दिया|
  उपस्थितों में शहर के गणमान्य नागरिक ,प्रयास के शैक्षिकवर्ग और सभी सदस्य ,तथा रोटरी क्लब के सदस्य उपस्थित रहे| आगरा का मीडिया -मून केबिल और हिन्दुस्तान समाचार पत्र से महेश धाकड भी उपस्थित थे|

प्रस्तुति बीना शर्मा 
सचिव प्रयास समिति 

प्रयास में चित्रकला प्रतियोगिता
दिनांक १८-०९-२०१० दिन शनिवार को रोटरी क्लब आव आगरा हेरिटेज के सौजन्य से प्रयास के बाल गोपालों के लिए ए क कला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया |६५ छात्रों ने इस प्रतियोगिता मेंअपनी प्रतिभागिता दर्ज कराई|रोटरी की सचिव ड़ा.माया श्रीवास्तव के साथ १८ सदस्यीय रोटरी दल ने इस कलाप्रतियोगिता का संदर्शन किया| इस अवसर पर प्रयास के शैक्षिक सदस्यों के अतिरिक्त ड़ा. अश्वनी श्रीवास्तव ,श्रीमती साधनावैद ,ड़ा.अनुपम(कोषाध्यक्ष ) ,श्रीमती अरुणा और् श्री हरीशंकर (सभी प्रयास सदस्य )बच्चों के उत्साहवर्धन हेतु उपस्थित रहे |प्रतियोगिता के अंत में रोटरी सदस्यों ने बच्चोंको बिस्कुट और टाफी वितरित की|
इस अवसर पर रोटरी क्लब आव आगरा हेरिटेज द्वारा पूर्व घोषित ५०००\- की धनराशि और ड़ा. डी.वी.शर्मा ,सहायक मंडलाध्यक्ष कीओर से ११००\-की धनराशि ड़ा. ए.के.भारद्वाज के हाथों प्रयास सचिव ड़ा. बीना शर्मा को प्रदान की गई| रोटरी क्लब के मंडलाध्यक्ष श्री पी.पी.सिंह द्वारा पूर्व में घोषित सिलाईमशीन भी ड़ा.अश्वनी श्रीवास्तव द्वारा प्रयास सचिव को सौपीं गई|
रोटरी क्लब की सहायता से प्रयास के हाथ बहुत मजबूत हुए हैं|प्रयास की सहायता के लिए रोटरी के सदस्यो का बहुत आभार व्यक्त किया गया |
समाचार प्रस्तुति
बीना शर्मा 
प्रयास संयोजिका

प्रयास ने मनाया 63 स्वतंत्रता दिवस
केनरा बेंक के सीनियर मेनेजर श्री पी.पी.शर्मा ने ध्व्जारोहण किया और बच्चो
को सम्बोधित किया ।प्रयास के नये सदस्य श्री हरीशंकर प्रजापति इस आयोजन मे सम्मिलित हुए।श्री मखीजा जी नेअपने विचार प्रकट किये। प्रो.एस.एन.शर्मा नेएक रोचकता के माध्यम से बच्चो को आजादी का अर्थ समझायाबच्चो ने आजादीके तराने गाकर अपना जोश प्रकत किया ।छात्रा रुना ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया ।प्रयास के सभी अध्यापक इस अवसर पर उपस्थित थे। प्रस्तुति बीना शर्मा सन्योजिका प्रयास


रोटरी क्लब आगरा हेरिटेज के गवर्नर का प्रयास में आगमन -
दिनांक ५ अगस्त २०१०,दिन वृहस्पतिवार को प्रात: दस बजे रोटरी क्लब आव आगरा हेरिटेज के माननीय पी.पी सिंह ,गवर्नर का अपने सहयोगियों (श्री डी.वी.सिंह ,सह मण्डलाध्यक्ष ,राघवेन्द्र बंसल पूर्व् सचिव ,प्रतिमा भार्गव अध्यक्ष ,माया श्रीवास्तव सचिव ,चित्रा सक्सेना निदेशक साक्षरता) के साथ प्रयास में आगमन हुआ| बच्चों ने करतल ध्वनि के साथ अपनी प्रसन्नता व्यक्त की|नन्हें बच्चों ने माल्यार्पण कर अतिथियों का स्वागत किया |बच्चियों ने खूब लड़ी मर्दानी वो तो झांसी वाली रानी कविता सुनाई तो बोधन कक्षा ने नन्हे-मुन्नेबच्चे तेरी मुठ्ठी में क्या है गाकर जता दिया कि उन्हें भीख नहीं ,केवल आपका सहयोग चाहिए |छोटे बच्चों ने भी प्रार्थना गाकर अपना जोश जता ही दिया |और अंत में समवेतस्वरों में गाये गए गीत तुम समय की रेत पर छोड़ते चलो निशाँ ने तो सम्मानीय आगंतुकों को अभिभूत कर दिया|
प्रयास सचिव बीना शर्मा ने प्रयास के कार्यों की जानकारी दी|मंडलाध्यक्ष ने प्रयास को सिलाई मशीन देने की घोषणा की और सह् मंडलाध्यक्ष ने अपनी ओर से प्रयास के लिए ११०० रुपये देने के लिए कहा |राघवेन्द्र बंसल ने प्रयास संयोजिका को स्टेशनरी सौपीं|आगरा उत्थान विकलांग समिति की ओर से प्रयास को ५०००\- की चेक राशि देने का प्रस्ताव है|सम्मानित अतिथियों ने प्रयास के क्रियाकलापों को बहुत सराहा और आगामी शिक्षा के लिए किसी विद्यालय से संबद्धता का सुझाब दिया |अंत में छात्रा कश्मीरी ने सभी आगंतुकों का आभार प्रदर्शित किया|इस अवसर पर प्रयास के सभी अध्यापक और प्रो.अश्वनी श्रीवास्तव उपस्थित थे|
प्रस्तुति
बीना शर्मा, प्रयास सचिव




अमर उजाला आगरा १२ जून २०१०  

  
डी.एल.ए.आगरा १९ जून २०१० 


 
वार्षिक कार्यक्रम की रिपोर्ट 
दिनांक १७-०५-२०१० को प्रयास के वार्षिक कार्यक्रम " हमने क्या सीखा " में मुख्य अतिथि के रूप में पधारे श्री महेश चंद गुप्ता ,भूतपूर्व बैंक मेनेजर ,इलाहाबाद बेंक ने बच्चों को रिजल्ट वितरित किया |अपने संबोधन की शुरुआत उन्होंने गुरु गोविन्द दोनों खड़े दोहे से की| शर्म को उनहोंने मानव की विशेषता बताया |एक यही गुण मानव को जानवरों से अलग करता है|प्रयास में बच्चों का कार्यक्रम देख कर उन्हें अपना बचपन याद आगया और उनहोंने कहा ,यह मेरे जीवन का अनमोल क्षण है जो मैंने प्रयास में बच्चों के साथ बिताया| उन्होंने स्वयं भी प्रयास से जुड़ने की इच्छा व्यक्त की | मेधावी छात्रों के लिए उन्होंने अपनी ओर से ५०० रूपये की धनराशि प्रदान की|
विशिष्ट अतिथि के रूप में पधारे श्री डी.एम. नायक ,असिस्टेंट डायरेक्टर,राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड (भारत सरकार का उद्यम ) के द्वारा बच्चों को स्कूली बेग वितरित करवाए गए |नायक जी ने घोषणा की कि प्रयास के जो बच्चे हाईस्कूल कर चुकेंगे उन्हें निशुल्क रोजगार परक पाठ्यक्रम कराने के लिए सुविधा दी जायेगी|
सभा के अध्यक्ष के रूप में डी.एल. ए. के एडीटर डा. सुभाष राय ने सर्वाधिक उपस्थिति ,अच्छे व्यवहार और प्रत्येक कार्य में पहल के लिए क्रमशः अजमेरी ,रुना और रेनी को प्रमाणपत्र और पुरस्कार प्रदान किये|अध्यक्षीय उदबोधन में उन्होंने कहा कि आज के भाग्दौड भरे युग में बच्चों का बचपन छिनता जा रहा है |ऐसे समय में इन बच्चों के चेहरे का भोलापन और शान्ति देख कर मुझे बहुत अच्छा लग रहा है|बच्चों के द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक प्रस्तुतियों को उन्होंने बहुत सराहा |
कार्यक्रम के प्रारम्भ में शुभम ,शाहीन और सोनिया ने अतिथियों को पुष्प गुच्छ दिया और प्रयास समिति के अध्यक्ष प्रो.एस.एन.शर्मा ने स्वागत वक्तव्य देते हुए कहा कि आज के व्यस्तता भरे माहौल में भी आप इस छोटी संस्था के लिए समय निकाल कर उपस्थित हुए,इससे संस्था का गौरव बढ़ा है और प्रयास के बच्चो को संरक्षण मिला है |
सस्था गीत "हम हैं छोटे –छोटे बच्चे" के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई |परिचय वर्ग ने "दया करो भगवान" ,बोधन वर्ग ने "इन्साफ की डगर पर बच्चों दिखाओ चलकर"और अभिव्यक्ति वर्ग ने "नगर-नगर और गाँव –गांवमें दीप जलाएंगे" की प्रस्तुति दी| बच्चों ने तीन लघु नाटक ईदगाह,संघठन में शक्ति और आतंकवाद मिटायेंगे ,प्रस्तुत किये| रुना, कश्मीरी और र्रेनी ने "आसरा इस जहां का मिले ना मिले "भजन की प्रसूति दी तो नन्ही बच्ची मुस्कान ने कौआ और गिलहरी की कहानी को बड़े ही प्रभाव पूर्ण तरीके से प्रस्तुत किया| रेनी और साथियों ने" कद्दूजी की चली बरात " कविता सुनाई| कुल मिलाकर कार्यक्रम में सभी रंग दिखाई दिए| ईदगाह के बाजार ने तो सबको मोह लिया| कहीं मिट्टी के बने खिलैने थे तो कहीं कोई गुब्बारे बेच रहा था| प्यारू ने नमाज अदा करवाई|
कार्यक्रम का संचालन तरुना और डा. बीना ने संयुक्त रूप से किया| सीमा ने प्रयास की गतिविधियों का उल्लेख किया तो डा. अनुपम ने बच्चों की उत्तर पुस्तिकाओं र्स के मूल्यांकन के समय के तथ्य सबके सामने रखे| रजनी ने सभी का सहयोग किया| सुधीर जी बच्चों की गतिविधियों को केमरे में कैद करते रहे |कहा जाए तो पूरे आयोजन के मूल में सुधीर जी की भूमिका पवन सूत हनुमान की रही|
धन्यवाद श्री ओ.पी मखीजा जी ने दिया औए कहा कि मेरी दिली इच्छा है कि इन बच्चों में से कम से का एक बच्चा अवश्य आई.ए.एस. अवश्य .बने|कार्यक्रम प्रयास सचिव बीना शर्मा के निर्देशन में संपन्न हुआ |
" हम होंगे कामयाब "गीत के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ |कार्यक्रम में साधना वैद ,डा. अनुपम सारस्वत ,डा. वरुण भारद्वाज ,श्रीमती अरुणा सारस्वत ,डा.सीमा दीक्षित ,श्री शैलेन्द्र दुबे .श्री ,एस.के.सिंह ,रेखा और मधु उपस्थित रहे|इस अवसर पर प्रयास के बच्चों के अभिभावक भी अपने नन्हें -मुन्नो के करतब देखने को मौजूद थे|
प्रस्तुति
प्रयास संयोजिका
बीना शर्मा
प्रयास में अविनाश वाचस्पति का शुभागमन
 -दिनांक आठ मई दिन शनिवार
फिल्म समारोह निदेशालय,सूचना और प्रसारण मंत्रालय दिल्ली से पधारे जाने-माने ब्लॉगर अविनाश जी ने प्रयास को देखा| संध्याकालीन आगमन और सिलाई सीखते बच्चों की उत्सुकता ,आपस में घुसुर-फुसुर -सुबह दीदी कह रही थी ना ये वो ही सर जी आये हैं दिल्ली से|प्रयास के विषय में जान कर बहुत ही खुश हुए अविनाश जी|और प्रयास के बच्चों को सौगात में देगए-हंसती दुनिया पत्रिका की कुछ अनमो ल प्रतियां |बच्चे बहुत खुश हैं क्योंकि उनके पुस्ताकलय में मनपसंद पुस्तकों का इजाफा जो हुआ है|
अगली यात्रा में बच्चों से मिलने का पक्का वायदा करकर गए अविनाश जी को प्रयास के बाल-गोपालों की बहुत -बहुत याद सहित नमस्ते|
प्रयास संयोजिका बीना शर्मा के सौजन्य से



प्रयास के बच्चों ने सीखा दांतों की सफाई कैसे करें? 
दिनांक ०७-०५-२०१० दिन शुक्रवार को वाराणसी से आई डा. मनीषा ,दन्त चिकित्सक ने प्रयास के बच्चों को बताया कि दांतों की सफाई कैसे की जानी चाहिए |दांतों की बीमारी के विषय में और उनको दूर करने के बारे में जानकारी दी| बच्चों के दांतों की जांच की और उन्हें सही तरीके से ब्रुश करने का तरीका बताया |
  बच्चों ने डाक्टर दीदी से खूब सारे सबाल पूछे |सुपाड़ी और तम्बाकू खाने से होने वाले रोगों के विषय में जानकर बच्चों ने प्रतिज्ञा की वे कभी सुपाड़ी नहीं खायेंगे और अपने माता-पिता को भी इन चीजों के खाने से रोकेंगे|
  अंत में अध्यापिका तरुना ने प्रयास की ओर से डा.मनीषा को धन्यवाद दिया|
प्रयास सचिव बीना शर्मा के सौजन्य से 



प्रयास के बच्चों ने देखी विज्ञान रेल
हम भी विज्ञान पढते हैं और समझते हैं ,दीदी हम भी विज्ञान रेल देखेंगे|अभिव्यक्ति वर्ग के १४ बच्चे अपने अध्यापकों मखीजा गुरूजी,सुधीर सर,सीमादीदी , रजनी दीदीऔर बड़ी दीदी के साथ आज दिनांक १३-०४-२०१० को आगरा केंट गए|आज अंतिम दिन होने के कारण अधिकाँश विद्यालयों के बच्चे वहाँ मौजूद थे|बहुत भीड़ थी,लेकिन बच्चों का उत्साह भी कम नही था|आखिरकार उन्होंने रेल में प्रवेश किया और प्रवेश के साथ ही प्रश्नों की बौछार शुरू हो गई-बच्चों के पास ढेरों जिज्ञासाएं थी| वे पहली बार किसी ऐसे आयोजन में शरीक हुए थे|
उन्हें लग रहा था हम भी अन्य स्कूलों के बच्चे जैसे हैं |बहुत ही हंसी-खुशी सफर खत्म हुआ|वापसी में कक्षा में बताई गई बाते.मसलन आगरा के कालेज ,सभी चौराहे,मुख्य बाजार,दीवानी और कचहरी,एम.जी.रोड ट्रेफिक लायट देख कर उनके चेहरे प्रसन्न थे| उनका ये शक्षिक संदर्शन बहुत ही ज्ञानवर्धक और मनोरंजक रहा |
प्रस्तुति -------संयोजिका बीना शर्मा


दिनांक १०-०४-२०१० दिन शनिवार को एक्मे इंस्टीट्यूट ,आगरा के बी.एड. के १५ छात्रों ने प्रयास के बच्चों को अपना शैक्षिक सहयोग दिया |उनके साथ अध्यापक डा.. संजय उपाध्याय ,ड़ा.इंदिरा भारद्वाज ,और ड़ा. चरण सिंह ने प्रयास का संदर्शन किया| सभी आगंतुक प्रयास की गतिविधियों को देखकर बहुत प्रसन्न थे| बच्चोंने ;: तुम समय की रेत पर छोड़ते चलो निशाँ: गीत से सम्मानित अतिथियों का मन मोह लिया|
प्रस्तुति---------संयोजिका बीना शर्मा






26-01-2010

प्रयास ने मनाया गणतंत्र दिवस , मुख्य अतिथि श्री मखीजा जी,अध्यक्ष प्रो. शिव नारायण शर्मा
कार्यक्रम का प्रारम्भ श्री ओ.पी .मखीजा जी के द्वारा ध्वजारोहण से हुआ| बच्चों ने राष्ट्रगान गाया| मुख्य अतिथि ने अपने संक्षिप्त उदबोधन में बच्चों को गणतंत्र दिवस मनाने का औचित्य समझाया| सभी बच्चो ने देशभक्ति गीत गाकर अपने उत्साह को जाहिर किया| विशेष रूप से आमन्त्रित सुश्री जानकी जी ने संविधान का अर्थ स्पष्ट किया | कार्यक्रम प्रो .शर्मा के अध्यक्षीय वक्तव्य से समाप्त हुआ |
कार्यक्रम का संचालन अध्यापिका तरुना ने किया| अंत में प्रयास सचिव बीना शर्मा ने आभार व्यक्त किया |

प्रयास के बच्चों ने मनाई बसंत पंचमी
दिनांक२०-१-२०१० को बसंत पंचमी के अवसर पर बीना दीदी के साथ बच्चों ने सरस्वती पूजन किया| इसा अवसर पर अध्यापिका सीमा ने विद्या की देवी सरस्वती के विषय में जानकारी दी|बच्चों ने माँ सरस्वती की आराधना में वर दे वीणा वादिनी वन्दना प्रस्तुत की |अपनी पुस्तके माँ के चरणों में रखी और प्रार्थना की कि उन्हें विद्या और बुद्धि का वर मिले| प्रसाद वितरण के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ

दिनांक 21-12-20009 को अक्मे इंस्टीटियुट.आगरा के बी.एड. के 11 छात्र कम्युनिटी कार्यक्रम के तहत डा.संजय उपाध्याय के नेतृत्व में प्रयास संस्था में उपस्थित हुए। इन छात्रों ने बच्चों को स्वच्छता और नैतिकता सम्बन्धी जानकारी दी।

दिनांक 22-12-2009 को पर्यावरणविद श्री ओमप्रकाश सरीन,प्रो.मीरा सरीन और श्रीमती उषागुप्ता विद्यालय संचालिका प्रयास संस्था में आये।सरीन साहब नेवृक्षों को बचाने सम्बन्धी उपायों के विषय मेंबच्चों को जानकारी दी।मीरा जी और उषाजी ने अपने दीर्घकालिक शिक्षण अनुभवों से प्रयास के शैक्षिक वर्ग को लाभांवित किया।


अशोक चक्रधर हिंदी के लोकप्रिय मंचीय कवि आगरा में
17 दिसम्बर 2009 को प्रयास समिति  के बच्चो से मिलने पहुँचे ।


Surendra K. Gambhir 
Founding Director to the Penn-in-India program
Chair of Language operations at the American Institute of Indian Studies
coming to meet children of prayas   

हमारी बड़ी खबर

15/10/2009, 8:02 am द्वारा Sample User प्रेषित   [ sudhir kumar द्वारा 10/12/2009, 12:31 pm अपडेट ]

विजय कुमार मल्होत्रा
पूर्व निदेशक (राजभाषा),
रेल मंत्रालय,भारत सरकार


विजय कुमार जी  आगरा में 11 दिसम्बर 2009 को प्रयास समिति  के बच्चो से मिलने आ रहे है 


पुराने समाचार

15/10/2009, 7:59 am द्वारा Sample User प्रेषित   [ sudhir kumar द्वारा 10/12/2009, 12:55 pm अपडेट ]

   






















   डां0अशोक गुप्ता, अस्थि रोगविशेषज्ञ

   डां0शालिनीरंजन ,स्त्रीरोगविशेषज्ञ

   डा0  ज्योति गुप्ता, फिजिओथेरेपिस्ट

   डा0 मनीष बंसल ,जनरल फिजीशियन

                    डा0 अतुल सिंघल, बाल रोग विशेषज्ञ

                    डा0 सुनील सरन सेठ,नेत्र रोग विशेषज्ञ

 महोदय/महोदया,

दिनांक 25 अक्तूबर 2009 दिन रविवार को प्रयास समिति द्वारा निशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन हुआ। इस शिविर में अपनी सेवायें देने की  के लिये समिति अपना आभार प्रकट करती है। 

                                                                        धन्यवाद ।  

                                                                                             सचिव प्रयास समिति  आगरा

 


1-2 of 2